Home Gadgets सर्दियों में इंटिमेट हाइजीन को नजरअंदाज करना हो सकता है जोखिम भरा,...

सर्दियों में इंटिमेट हाइजीन को नजरअंदाज करना हो सकता है जोखिम भरा, जानिए कैसे रखना है अपना ख्‍याल

सर्दियां आते ही हम आलसी हो जाते हैं और ठण्ड के कारण नहाना छोड़ देते हैं। यहां तक कि कई दिनो तक एक ही कपड़े पहने रहते हैं। ऐसा करना स्वास्थय के लिए हानिकारक साबित हो सकता है। अगर आप भी सर्दियों में आलस के चलते अपने अंडर गारमेंट्स नहीं बदलती,  तो इसका आपकी इंटिमेट हेल्थ पर काफी बुरा प्रभाव पढ़ सकता है।

पर्सनल हाइजीन का एक अहम पहलू इंटिमेट हाइजीन भी है। इंटिमेट हाइजीन बनाए रखना महिलाओं के लिए बेहद जरूरी है, न केवल स्वच्छ और फ्रेश महसूस करने के लिए, बल्कि यूटीआई UTI (Urinary Tract Infection) जैसी गंभीर समस्याओं से बचने के लिए भी बेहद जरूरी है।

हमारे शरीर के प्राइवेट एरिया में मौजूद टिश्‍यु के कारण, हाइजीन की अनदेखी या जरूरत से ज्यादा साफ करना भी जलन और इंफेक्‍शन दे सकता हैं।

अगर आप भी इंटीमेट हाइजीन के प्रति लापरवाह हैं, तो आपको उठानी पड़ सकती हैं ये समस्‍याएं 

 

1. प्राइवेट एरिया में दुर्गंध की समस्या:

अगर आप रोज़ अपने अंडर गारमेंट्स नही चेंज करती हैं, तो आप अपनी इंटिमेट हेल्थ के साथ खिलवाड़ कर रही हैं। वाइट डिस्चार्ज के कारण अंडर वियर में नमी पैदा हो सकती है जिसकी वजह से वेजाइना में बैक्टीरियल या फंगल इन्‍फेक्‍शन होने के चांस बढ़ जाते हैं। इस वजह से इंटिमेट एरिया में दुर्गंध आने लगती है, जो आपके लिए काफी नुकसानदायक हो सकती है।

 

यह भी पढ़ें: खजूर के साथ ही ये 4 फूड्स दिला सकते हैं आपको अनियमित पीरियड्स से छुटकारा

 

 

2. रैशेज की समस्या:

रोजाना अंडरवियर चेंज न करने से गंदगी, पसीने के कारण वेजाइना के आसपास लाल रंग के मुंहासे या रैशेज होने लगते हैं। यह शरीर के लिए काफी दर्दनाक हो सकता है। इसके लिए जरूरी है कि आप अपने इंटिमेट एरिया को हमेशा साफ रखें।

 

vaginal health

3. संक्रमण होने का खतरा:

सर्दियों के मौसम में ज़्यादातर महिलाओं में यीस्ट इन्फेक्शन होने का खतरा काफी बढ़ जाता है। इसके पीछे की एक वजह अंडर गारमेंट्स को चेंज न करना और इंटिमेट एरिया को साफ न रखना है। गंदे अंडर वियर पहनने से संक्रमण का खतरा काफी बढ़ जाता है। इससे इंटिमेट एरिया के आसपास जलन, और दर्द होने लगता है।

इन समस्‍याओं से बचने के लिए आप फॉलो कर सकती हैंं ये टिप्‍स

 

  • दिन में 2 बार इंटिमेट एरिया को हल्‍के गुनगुने पानी से साफ करें। वेजाइना खुद को नैचुरली साफ़ रखने में सक्षम है। इसीलिए ध्‍यान रखें कि दिन में 2 बार से ज्‍यादा करना जलन, खुजली और ड्राईनेस को बढ़ावा दे सकता है।

  • वहां की त्वचा पर हार्ड वॉटर, हार्श साबुन आदि का इस्तेमाल न करें। हमेशा माइल्‍ड प्रोडक्ट का इस्तेमाल करें।

  • हमेशा साफ अंडरवियर पहनें और रोज़ बदलें। इंटिमेट हाइजीन के लिए ये सबसे आसान काम है और इसके दूरगामी प्रभाव देखने को मिलते है।

  • पीरियड्स के दौरान, सैनिटरी पैड / टैम्पोन को हर 5 से 6 घंटे में बदलें।

  • ऐसे कपड़े न पहनें जो बहुत टाइट हों। इससे जलन होने लगती है और यह इस एरिया में ब्‍लड सर्कुलेशन को भी प्रभावित करता है। हमेशा कॉटन से बने अंडरवियर पहनें।

इंटिमेट हाईजीन शारीरिक स्‍वच्‍छता का एक एहम हिस्सा है इसलिए इसे बिलकुल भी नजरंदाज न करे..

 

यह भी पढ़ें – क्या आपकी योनि को भी एक्सफोलिएशन की जरूरत होती है? जानिए इस बारे में सब कुछ

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

टीकाकरणः नए हालात, नई रणनीति

केंद्र सरकार ने साफ कर दिया है कि कोरोना के टीकाकरण का दूसरा चरण सोमवार एक मार्च से ही शुरू हो जाएगा और इसके...

दिशा रविः विवेकशीलता के पक्ष में

बहुचर्चित टूलकिट मामले में गिरफ्तार युवा पर्यावरण कार्यकर्ता को आखिर मंगलवार को दिल्ली की एक अदालत से जमानत मिल गई। पहले दिन से...

जंग बन गए हैं चुनाव

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने असम में एक रैली को संबोधित करते हुए संकेत दिया कि मार्च के पहले हफ्ते में चुनाव आयोग वहां चुनाव...

भारत-चीनः सुधर रहे हैं हालात

राहत की बात है कि भारत-चीन सीमा पर आमने-सामने तैनात टुकड़ियों की वापसी को लेकर शुरुआती सहमति बनने के बाद एलएसी पर तनाव में...

Recent Comments