Home Sport दिल्ली कैपिटल्स से हार के बाद धोनी ने बताया क्यों ब्रावो नहीं...

दिल्ली कैपिटल्स से हार के बाद धोनी ने बताया क्यों ब्रावो नहीं जडेजा ने फेंका आखिरी ओवर

शारजाह
शनिवार को दिल्ली कैपिटल्स ने चेन्नै सुपर किंग्स को पांच विकेट से हराकर पॉइंट्स टेबल में टॉप पर पहुंच गई। दिल्ली के सामने 180 रन का लक्ष्य था जिसे उसने शिखर धवन की आईपीएल में पहली सेंचुरी की मदद से 1 गेंद बाकी रहते 185 रन बनाकर हासिल कर लिया। आखिरी ओवर में दिल्ली को 15 रन चाहिए थे। चेन्नै के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने रविंद्र जडेजा को गेंद सौंपी।

धोनी का यह फैसला गलत साबित हुआ और अक्षर पटेल ने चार छक्के लगाकर मैच अपनी टीम को जीत दिलाई। हालांकि धोनी के इस फैसले की हैरानी हुई कि आखिर उन्होंने ड्वेन ब्रावो को ओवर क्यों नहीं दिया। ब्रावो आखिरी ओवरों के विशेषज्ञ माने जाते हैं लेकिन बाएं हाथ के बल्लेबाजों के सामने धोनी ने बाएं हाथ के स्पिनर को ही गेंद क्यों सौंपी और वह भी तब जब शारजाह की बाउंड्री बहुत छोटी है। हालांकि धोनी ने मैच के बाद बताया कि आखिर क्यों ब्रावो ने आखिरी ओवर नहीं फेंका।

स्कोरकार्ड
धोनी ने बताया, ‘ब्रावो फिट नहीं थे। वह वापस आने के योग्य नहीं थे। इसी वजह से उन्होंने जडेजा को ओवर दिया।’ धोनी ने कहा कि उनके पास कर्ण शर्मा और जड्डू में से किसी एक को गेंदबाजी देने का विकल्प था और उन्होंने जडेजा को चुना। धोनी ने कहा, ‘शायद यह काफी नहीं था।’

उन्होंने माना कि धवन का विकेट काफी जरूरी था। धवन ने 58 गेंद पर 101 रन की नाबाद पारी खेली। धोनी ने कहा, ‘हमने शिखर को कुछ मौके दिए। हमने कई बार उनके कैच छोड़े। जब तक वह क्रीज पर होते हैं तो स्ट्राइक रेट बनाए रखते हैं। मुझे लगता है कि उनका विकेट काफी जरूरी था।’

धोनी ने यह भी माना, ‘मुझे लगता है कि पहली पारी के मुकाबले दूसरी पारी में विकेट में बदलाव आ गया था। दूसरी पारी में विकेट बल्लेबाजी के लिए आसान हो गया था। लेकिन कुल मिलाकर हम धवन से श्रेय वापस नहीं ले सकते, उन्होंने काफी अच्छी बल्लेबाजी की और बाकी खिलाड़ियों ने उनका अच्छा साथ दिया।’

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

देश में कोविड-19 पर नियंत्रण के बाद पटरी पर लौट रहा है घरेलू पर्यटन

केंद्रीय पर्यटन मंत्रालय के एक आला अधिकारी का कहना है कि देश में कोविड-19 पर नियंत्रण के बाद घरेलू पर्यटन पटरी पर लौट रहा...

42 प्रतिशत लड़कियां दिन में एक घंटे से भी कम करती हैं मोबाइल का इस्तेमाल

 लगभग 42 प्रतिशत किशोरियों को एक दिन में एक घंटे से भी कम समय के लिए मोबाइल फोन का उपयोग करने की अनुमति मिलती...

इटावा लॉयन सफारी को पर्यटकोंं के लिए खोलने की तैयारी

उत्तर प्रदेश में इटावा के बीहडो में स्थित विश्व प्रसिद्ध लॉयन सफारी को पर्यटकोंं के लिए खोलने की तैयारियां शुरू कर दी गई है और सब...

क्या आप भी इन चीजों को फ्रिज में रखने की करते हैं गलती? सेहत को हो सकता है बड़ा नुकसान

Foods You Should Not Refrigerate : आमतौर पर फल और सब्जियों को लंबे समय तक फ्रेश बनाएं रखने के लिए उन्हें फ्रिज में रख...

Recent Comments