Home Sport महिला क्रिकेटरों के राष्ट्रीय चयन पैनल की प्रमुख बनीं नीतू डेविड

महिला क्रिकेटरों के राष्ट्रीय चयन पैनल की प्रमुख बनीं नीतू डेविड

नई दिल्ली
भारतीय क्रिकेट बोर्ड (BCCI) ने शनिवार को पूर्व स्पिनर नीतू डेविड (Neetu David) को महिलाओं के राष्ट्रीय चयन पैनल का चेयरमैन नियुक्त करने की घोषणा की। पैनल में अन्य सदस्य पूर्व भारतीय खिलाड़ी मिठु मुखर्जी, रेणु मार्गेट, आरती वैद्य और वी. कल्पना हैं। हेमलता काला की अगुआई वाले पिछले पैनल का कार्यकाल मार्च 2020 में ही समाप्त हो गया था। इसमें सुधा शाह, अंजलि पेंढारकर, शशि गुप्ता और लोपामुद्रा बनर्जी अन्य सदस्य थीं।

पैनल ने ऑस्ट्रेलिया में महिला वर्ल्ड टी20 के लिए टीम चुनी थी, जो उनका अंतिम चयन था। इसमें भारतीय टीम उपविजेता रही थी। भारतीय स्पिनर डेविड ने 10 टेस्ट में 41 विकेट चटकाए हैं। उनके नाम टेस्ट में एक पारी में सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी का विश्व रेकॉर्ड (53 रन देकर 8 विकेट) है, जो उन्होंने 1995 में जमशेदपुर में इंग्लैंड के खिलाफ हासिल किया था।

90 के दशक के अंत और 2000 के शुरू तक शानदार प्रदर्शन करने वाली डेविड भारत की महिला वनडे में सर्वााधिक विकेट लेने वाली खिलाड़ी थीं, जिसके बाद झूलन गोस्वामी ने उन्हें पछाड़ दिया। बीसीसीआई सचिव जय शाह ने बयान में कहा, ‘वरिष्ठता को देखते हुए बाएं हाथ की पूर्व स्पिनर नीतू डेविड पांच सदस्यीय समिति की प्रमुख होंगी।’

शाह ने कहा, ‘वह भारत की दूसरी सबसे ज्यादा विकेट हासिल करने वाली महिला खिलाड़ी भी हैं। उन्होंने 97 मैचों में 141 विकेट लिए हैं। वह भारत की ओर से सबसे पहले 100 विकेट हासिल करने खिलाड़ी भी हैं।’ बीसीसीआई ने नए चयन पैनल की घोषणा नहीं की थी, जिसकी काफी आलोचना की जा रही थी लेकिन इस विलंब के पीछे कारण कोविड-19 के कारण लॉकडाउन में किसी भी क्रिकेट गतिविधि का नहीं होना था।

भारतीय महिला टीम अब संयुक्त अरब अमीरात (UAE) में तीन टीमों की महिला चैलेंजर सीरीज खेलेगी और इसके लिए बीसीसीआई को सबसे पहले नया महिला चयन पैनल बनाने की जरूरत थी। काफी आवेदन थे लेकिन पता चला कि पूर्व भारतीय स्पिनर डेविड इसमें शीर्ष दावेदार थीं।

उन्होंने 2008 में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कहा था। बीसीसीआई के एक सीनियर सूत्र ने पीटीआई-भाषा से गोपनीयता की शर्त पर कहा था, ‘नीतू भरतीय महिला क्रिकेट में बड़ा नाम हैं और उनका कद काफी बड़ा है। मुझे नहीं लगता कि चयन पैनल का प्रमुख बनने के लिये कोई भी नीतू की काबिलियत पर सवाल कर सकता है।’

चयन समिति के सदस्यों के लिये महाराष्ट्र की पूर्व बल्लेबाज आरती वैद्य ने आवेदन भरा था, जो पश्चिम क्षेत्र से दावेदार थीं। पूर्वी क्षेत्र से मिथु मुखर्जी का नाम चल रहा था। वह पिछले पैनल का हिस्सा थीं लेकिन अपना पूरा कार्यकाल खत्म नहीं कर पायी थीं और उन कार्यकाल के कम से कम दो साल बचे हैं। मध्य क्षेत्र से रेणु माग्रेट उम्मीदवार थीं जिन्होंने भारत के लिए 5 टेस्ट और 23 वनडे खेले। पांचवीं उम्मीदवार 59 वर्षीय वेंकटाचेर कल्पना थीं।

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

फर्क समझे सरकार

सोशल मीडिया को नियमित करने की बहुचर्चित और वास्तविक जरूरत पूरी करने के मकसद से केंद्र सरकार पिछले हफ्ते जो नए कानून लेकर आई...

भारत-पाकिस्तानः LOC पर शांति की उम्मीद

भारत और पाकिस्तान की सेनाओं की ओर से संयुक्त घोषणापत्र के रूप में गुरुवार को आई यह खबर एकबारगी सबको चौंका गई कि दोनों...

टीकाकरणः नए हालात, नई रणनीति

केंद्र सरकार ने साफ कर दिया है कि कोरोना के टीकाकरण का दूसरा चरण सोमवार एक मार्च से ही शुरू हो जाएगा और इसके...

दिशा रविः विवेकशीलता के पक्ष में

बहुचर्चित टूलकिट मामले में गिरफ्तार युवा पर्यावरण कार्यकर्ता को आखिर मंगलवार को दिल्ली की एक अदालत से जमानत मिल गई। पहले दिन से...

Recent Comments