Home Sport T20 फॉर्मेट के लिए अलग टीम इंग्लैंड के लिए वरदान, दुनिया की...

T20 फॉर्मेट के लिए अलग टीम इंग्लैंड के लिए वरदान, दुनिया की बाकी टीमें भी करेंगी ट्रेंड फॉलो: कृष्णमाचारी श्रीकांत

नई दिल्ली
इंग्लैंड की क्रिकेट इन दिनों एक नए स्तर और नए अंदाज में दिख रही है। इंग्लिश क्रिकेट बोर्ड ने अपनी टेस्ट और टी20 टीमों को बिल्कुल अलग-अलग रखा है। टेस्ट क्रिकेट में उसके कुछ अलग खिलाड़ी खेल रहे हैं और वनडे में कुछ अलग। भारतीय टीम के पूर्व ओपनिंग बल्लेबाज कृष्णमाचारी श्रीकांत (Krishnamachari Srikkanth) को इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड का यह आइडिया खूब पसंद आया है। श्रीकांत ने कहा कि जल्दी ही दुनिया की बाकी टीमें भी इसी अंदाज को अपनाती दिखाई देंगी।

हमारे सहयोगी अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया में छपे एक लेख में इस पूर्व दिग्गज बल्लेबाज ने कहा, ‘मुझे इंग्लैंड का यह आइडिया खूब पसंद आया है कि उन्होंने सफेद बॉल क्रिकेट के लिए अपनी टीम बिल्कुल अलग रखी हुई है। छोटे फॉर्मेट में उनकी इस कामयाबी के पीछे इस सोच का बड़ा हाथ है। मेरा हमेशा से ही यह मानना रहा है क्रिकेट के अलग-अलग फॉर्मेट में हॉर्सेस फॉर कोर्सेज (अलग काम के लिए अलग व्यक्ति) वाली कहावत यहां लागू होनी चाहिए। यह तय है कि इंग्लिश खेमे में बेन स्टोक्स और जोस बटलर ही टेस्ट टीम से इस फॉर्मेट के लिए टीम में लौटेंगे। इसके अलावा मुझे नहीं लगता कि टेस्ट टीम का कोई और खिलाड़ी यहां T20I में खेलेगा।’

IPL से वनडे टीम इंडिया में वापसी चाहते हैं अजिंक्य रहाणे, बताया प्लान

इंग्लैंड और पाकिस्तान के बीच आज से 3 मैचों की टी20 सीरीज का आगाज हो रहा है। भारत के इस पूर्व ओपनिंग बल्लेबाज ने कहा, ‘इंग्लैंड की परिस्थितियों को बेहतर समझने के चलते इस सीरीज में इंग्लैंड का दावा मजबूत नजर आता है। लेकिन पाकिस्तान के बारे में आप कभी कुछ नहीं कह सकते। वह कभी भी चमत्कार करने वाली टीम है। ऐसे में यह सीरीज बेहद रोचक होने जा रही है।’

इस 60 वर्षीय पूर्व खिलाड़ी ने कहा, ‘मेजबान टीम के खिलाड़ियों के लिए यह सीरीज एक अलग तरह की चुनौती होगी क्योंकि उनके ज्यादातर खिलाड़ियों को इसके बाद आईपीएल में एंट्री करनी है। पाकिस्तान के लिए यहां मौका है कि वह अपने युवा खिलाड़ियों को यहां चांस दे और ऐसी टीम तैयार करने की दिशा में काम शुरू करे, जिस पर उसे गर्व हो।’

ग्रेग चैपल बोले, धोनी में फर्जी विनम्रता नहीं, बेबाकी से कहते हैं हर बात

श्रीकांत ने कहा, ‘पाकिस्तानी खेमे में सभी की नजर बाबर आजम पर टिकी होंगी, जो हर फॉर्मेट के लिहाज से प्रतिस्पर्धी खिलाड़ी हैं। उनके पास युवा और अनुभवी खिलाड़ियों का अच्छा मिश्रण है और उन्हें अपनी क्रिकेट में निरंतरता लाने के लिए अच्छी कोशिश करनी चाहिए।’

इस पूर्व खिलाड़ी ने इन विपरीत हालात में इंटरनैशनल क्रिकेट की सफल वापसी कराने के लिए इंग्लैंड, वेस्टइंडीज और पाकिस्तान की टीमों को थैंक्यू भी कहा। जिन्होंने कोरोना वायरस के दौर में बहुत ही कम प्रैक्टिस कर सेहत के लिहाज से बेहद चुनौतीपूर्ण माहौल उच्च स्तर की क्रिकेद का प्रदर्शन किया।

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

मराठा आरक्षण को ना

सुप्रीम कोर्ट ने बुधवार को एक महत्वपूर्ण फैसले में महाराष्ट्र के उस कानून को असंवैधानिक करार दिया जिसके तहत मराठा समुदाय के लिए शिक्षा...

बंगाल में हिंसा बंद हो

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के नतीजे आने के बाद राजनीतिक हिंसा का मामला तूल पकड़ गया है, जिसमें अब तक 12 लोगों की मौत...

वैक्सीन मैन का दुख

लंदन के अखबार फाइनैंशल टाइम्स को दिए इंटरव्यू में सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ इंडिया के अदार पूनावाला ने कहा है कि भारत में आने वाले...

ममता ने खेल किया

कोरोना की दूसरी लहर के बीच हुए पश्चिम बंगाल, असम, केरल, तमिलनाडु और पुडुचेरी विधानसभा चुनावों के दौरान भले परिवर्तन शब्द पर सबसे ज्यादा...

Recent Comments