Home Sport खेल नहीं बल्कि शिक्षा के क्षेत्र में पूर्व क्रिकेटर नीलेश कुलकर्णी को...

खेल नहीं बल्कि शिक्षा के क्षेत्र में पूर्व क्रिकेटर नीलेश कुलकर्णी को राष्ट्रपति करेंगे सम्मानित

मुंबई
पूर्व भारतीय क्रिकेटर नीलेश कुलकर्णी को 29 अगस्त को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद सम्मानित करेंगे। यह सम्मान उन्हें खेल में उनके योगदान के लिए नहीं, बल्कि शिक्षा क्षेत्र में करियर बनाने (खेल शिक्षा में उत्कृष्टता) के लिए दिया जा रहा है। नीलेश की ओर से संचालित खेल प्रबंधन संस्थान को खेल शिक्षा में उत्कृष्टता के यह सम्मान दिया जाएगा।

29 अगस्त को अर्जुन और खेल रत्न पुरस्कारों के विजेताओं के साथ नीलेश कुलकर्णी भी सम्मानित किए जाएंगे।खेल मंत्रालय के संयुक्त सचिव एलएस सिंह ने कहा कि 2020 के राष्ट्रीय खेल प्रोत्साहन पुरस्कार के लिए इंटरनैशनल इंस्टीट्यूट ऑफ स्पोर्ट्स मैनेजमेंट (आईआईएसएम) को चुना गया है।

पढ़ें, सचिन, धोनी और विराट की लिस्ट में नाम आना गर्व की बात: रोहित शर्मा

47 वर्षीय नीलेश ने करियर में 3 टेस्ट और 10 वनडे इंटरनैशनल मैच खेले। उन्होंने 10 साल पहले आईआईएसएम शुरू किया था। ग्रैजुएट और मास्टर्स कर चुके छात्रों के लिए व्यावसायिक पाठ्यक्रमों की पेशकश करते हुए इस संस्थान ने देश में खेल प्रबंधन शिक्षा का बीड़ा उठाया है। मुंबई के अंधेरी में यह संस्थान नीलेश और उनकी पत्नी रसिका संयुक्त रूप से चलाते हैं।

रोहित शर्मा को मिलेगा खेल जगत का सर्वोच्च पुरस्कार, बोले- फैंस हैं सपॉर्ट सिस्टम

मुंबई के पूर्व कप्तान और पूर्व सिलेक्टर रहे नीलेश को 29 अगस्त को मंत्रालय में उपस्थित रहने के लिए कहा गया है, जहां से वह राष्ट्रपति भवन में आयोजित वर्चुअल समारोह में शामिल होंगे। इस बारे में प्रोफेसर रत्नाकर शेट्टी ने कहा कि नीलेश ने वास्तव में इस संस्थान के लिए कड़ी मेहनत की है। प्रशिक्षण का व्यावहारिक हिस्सा, खेल के वास्तविक संचालन जैसे कि खेलो भारत और अन्य अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिताएं आदि में छात्रों को शामिल करना इस प्रशिक्षण को बहुत खास बनाता है।

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

तीसरी लहर का खतरा

आज जब पूरा देश कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर के विनाशकारी नतीजों से निपटने में लगा है, यह सूचना मन में मिश्रित भाव पैदा...

मराठा आरक्षण को ना

सुप्रीम कोर्ट ने बुधवार को एक महत्वपूर्ण फैसले में महाराष्ट्र के उस कानून को असंवैधानिक करार दिया जिसके तहत मराठा समुदाय के लिए शिक्षा...

बंगाल में हिंसा बंद हो

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के नतीजे आने के बाद राजनीतिक हिंसा का मामला तूल पकड़ गया है, जिसमें अब तक 12 लोगों की मौत...

वैक्सीन मैन का दुख

लंदन के अखबार फाइनैंशल टाइम्स को दिए इंटरव्यू में सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ इंडिया के अदार पूनावाला ने कहा है कि भारत में आने वाले...

Recent Comments