Home News रिया के ड्रग चैट पर बोले वकील विकास सिंह- हमने FIR में...

रिया के ड्रग चैट पर बोले वकील विकास सिंह- हमने FIR में लिखाई थी ये बात लेकिन…

सुशांत सिंह राजपूत केस की जांच बीते दिनों मुंबई पुलिस से CBI को रेफर कर दी गई है। इस मामले में प्रवर्तन निदेशालय (ED) मनी लॉन्ड्रिंग के ऐंगल से जांच कर रहा है। रीसेंटली रिया चक्रवर्ती की ड्रग चैट चर्चा में है। आरोप है कि रिया ड्रग के इस्तेमाल और डीलिंग में इन्वॉल्व थीं। अब सुशांत सिंह राजपूत की फैमिली के वकील ने इस पर बोला है।

रिया के ड्रग्स डीलिंग में इन्वॉल्व होने का शक
टाइम्स नाऊ ने सोमवार को रिया चक्रवर्ती के वॉट्सऐप चैट्स हासिल किए। बताया जा रहा है कि रिया ड्रग्स के इस्तेमाल और इसकी डीलिंग में इन्वॉल्व थीं। रिया को किसी का मेसेज है, कॉफी, चाय या पानी में 4 बूंद डालो और उसे ये पीने द। 30 से 40 मिनट में असर दिखेगा।


FIR में ड्रग्स ओवरडीज की बात
अब सुशांत सिंह राजपूत के परिवार के वकील विकास सिंह ने कहा है कि उन्होंने FIR में ड्रग्स की ओवरडोज की बात लिखी थी। हालांकि उस वक्त उन्हें लग रहा था कि ये ड्रग डॉक्टर्स ने सुशांत को दी थी। उन्होंने कहा, सुशांत को कुछ ऐसा दिया जा रहा था, जिसका उन्हें पता नहीं था। इस वजह से उनकी असमय मौत हो गई।

सर्च इंजन में कूपर सबसे बदनाम हॉस्पिटल
विकास सिंह सुशांत की ऑटोप्सी पर सवाल उठा चुके हैं। उनका कहना है कि कूपर हॉस्पिटल ही क्यों ले जाया गया जबकि सर्च इंजन के मुताबिक, ये सबसे बदनाम हॉस्पिटल है। उन्होंने यह भी कहा कि उन्होंने आज तक ऐसी ऑटोप्सी नहीं देखी जिसमें मौत का वक्त न दिया गया हो।

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

वैक्सीन में कितना अंतर हो

भारत में कोरोना वैक्सीन कोविशील्ड के दो डोज के बीच अंतर को बढ़ाकर 12 से 16 सप्ताह किए जाने के फैसले पर सवाल-जवाब का...

रजिस्ट्रेशन आसान हो, वैक्सीन के सुरक्षा घेरे में सब लाए जाएं

देश में 18 साल से ऊपर के सभी लोगों को टीकाकरण के दायरे में लाने की शुरुआत इस महीने की पहली तारीख से हुई,...

केंद्र ही खरीदे टीका

दिल्ली सरकार ने कोवैक्सीन की कमी की बात कहते हुए 18-44 साल आयुवर्ग के लिए चल रहे 100 टीकाकरण केंद्र बंद कर दिए हैं।...

गांवों में फैला कोरोना

जहां एक ओर बुरी तरह प्रभावित राज्यों और बड़े शहरों में कोरोना संक्रमण की स्थिति में हल्का सुधार दिखने से राहत महसूस की जा...

Recent Comments