Home Sport भारतीय फुटबॉलरों ने संदेश झिंगन की तारीफ की, सुनील छेत्री बोले- पर्फेक्ट...

भारतीय फुटबॉलरों ने संदेश झिंगन की तारीफ की, सुनील छेत्री बोले- पर्फेक्ट रोल मॉडल

नई दिल्ली
भारतीय टीम के कप्तान सुनील छेत्री सहित देश के कुछ शीर्ष फुटबॉलरों ने डिफेंडर संदेश झिंगन की तारीफ की। संदेश को अर्जुन पुरस्कार से नवाजा जाएगा। इस प्रतिष्ठित पुरस्कार को प्राप्त करने वाले वह 27वें फुटबॉलर हैं।

अखिल भारतीय फुटबाल महासंघ (एआईएफएफ) की ओर से जारी बयान के अनुसार, वर्ष 2011 में अर्जुन और 2019 में पद्म श्री पुरस्कार प्राप्त कर चुके स्ट्राइकर छेत्री ने झिंगन के चुने जाने पर खुशी व्यक्त करते हुए कहा कि वह बेहतरीन आदर्श खिलाड़ी हैं। छेत्री ने झिंगन को संदेश में कहा, ‘अर्जुन क्लब में स्वागत है।’ उन्होंने कहा, ‘जब मैंने खबर सुनी, मैं उन्हें सबसे पहले बधाई देना चाहता था। इसलिए उन्हें फोन किया और हमने बात की।’

पढ़ें, मेसी ने कहा, बार्सिलोना क्लब छोड़ना चाहता हूं

छेत्री ने कहा, ‘वह नयी पीढ़ी के भारतीय खिलाड़ियों के लिए बेहतरीन उदाहरण हैं- वह निडर हैं, महत्वकांक्षी हैं और हमेशा खुद में सुधार करना चाहते हैं। वह युवाओं के लिए बेहतरीन रोल मॉडल हैं और मैं उन पर आंख मूंदकर भरोसा करता हूं। उन्हें शुभकामनाएं।’

छेत्री बोले, रिटायरमेंट के बारे में अभी नहीं लिया कोई फैसला

मार्च 2015 में झिंगन ने गुवाहाटी में फीफा वर्ल्ड कप 2018 क्वॉलिफायर प्लेऑफ में नेपाल के खिलाफ भारतीय टीम के लिए पदार्पण किया था और उस समय पूर्व गोलकीपर सुब्रत पॉल टीम की कप्तानी संभाल रहे थे जिन्हें 2016 में अर्जुन पुरस्कार मिला था। सुब्रत ने झिंगन की प्रशंसा करते हुए कहा कि इस 27 साल के खिलाड़ी के लिए सर्वश्रेष्ठ अभी आना बाकी है।

सुब्रत ने कहा, ‘किसी भी खिलाड़ी के लिए अर्जुन पुरस्कार मिलना बड़ी उपलब्धि है। मैं उम्मीद करता हूं कि वह इस पुरस्कार को प्रेरणा के तोर पर लेंगे और अपने देश और क्लब के लिए शानदार प्रदर्शन करना जारी रखेंगे और उनके लिए ज्यादा से ज्यादा सफलता हासिल करेंगे। संदेश को अर्जुन पुरस्कार से नवाजा जाना इस बात का संकेत है कि उनका प्रदर्शन कितना शानदार रहा है। 2014 के बाद से वह लगातार सुधार कर रहे हैं और बतौर खिलाड़ी आगे बढ़ रहे हैं। हालांकि उनका सर्वश्रेष्ठ अभी आना बाकी है।’

पंजाब फुटबॉल के लिए यह लगातार दूसरा अर्जुन पुरस्कार है क्योंकि मौजूदा भारतीय गोलकीपर गुरप्रीत सिंह संधू को पिछले साल इससे नवाजा गया था। दोनों खिलाड़ी चंडीगढ़ के हैं। गुरप्रीत ने अपने साथी को बधाई देते हुए कहा, ‘संदेश का आत्मविश्वास मैदान पर सबसे शानदार चीज होता है। बधाई हो संदेश। यह आपके परिवार के लिए बहुत बड़ा क्षण है। आपने उन्हें और पूरे चंडीगढ़ को गौरवान्वित किया है। मुझे उम्मीद है कि तुम इसी तरह खेलते रहोगे। तुम्हें अभी भारतीय फुटबॉल को बहुत कुछ देना है।’

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

इस्राइल-फलस्तीन विवाद: रुके हिंसा का यह दौर

इस्राइल और फलस्तीन के बीच पिछले एक हफ्ते से जारी भीषण गोलाबारी से चिंतित वैश्विक समुदाय ने ठीक ही अपील की है कि सबसे...

वैक्सीन में कितना अंतर हो

भारत में कोरोना वैक्सीन कोविशील्ड के दो डोज के बीच अंतर को बढ़ाकर 12 से 16 सप्ताह किए जाने के फैसले पर सवाल-जवाब का...

रजिस्ट्रेशन आसान हो, वैक्सीन के सुरक्षा घेरे में सब लाए जाएं

देश में 18 साल से ऊपर के सभी लोगों को टीकाकरण के दायरे में लाने की शुरुआत इस महीने की पहली तारीख से हुई,...

केंद्र ही खरीदे टीका

दिल्ली सरकार ने कोवैक्सीन की कमी की बात कहते हुए 18-44 साल आयुवर्ग के लिए चल रहे 100 टीकाकरण केंद्र बंद कर दिए हैं।...

Recent Comments