Home Gadgets COVID-19:कोरोना से रहना है महफूज तो जाएं एंगुइला द्वीप, इन आवेदकों को...

COVID-19:कोरोना से रहना है महफूज तो जाएं एंगुइला द्वीप, इन आवेदकों को मिलेगी पहली प्राथमिकता

अगर आप कोविड-19 संकट के दौरान घर से काम करते-करते ऊब गए हैं और किसी महफूज जगह की तलाश में हैं तो कैरिबियाई एंगुइला द्वीप आपके लिए सुरक्षित जगह है। यहां आप न सिर्फ प्राकृतिक खूबसूरती के बीच रह सकते हैं, बल्कि यहां से ऑनलाइन दफ्तर का काम भी निपटा सकते हैं। यहां इंटरनेट की कोई दिक्कत नहीं होगी। 

दिलचस्प बात ये है कि यहां कोरोना का खतरा भी नहीं है। इस महफूज द्वीप पर आप एक साल तक रह सकते हैं। इसके लिए आपको ऑनलाइन आवेदन करना होगा। शुक्रवार से द्वीप के टूरिज्म बोर्ड ने ऑनलाइन आवेदन लेना शुरू कर दिया हैं। यहां जाने के इच्छुक लोगों को पहले कदम के तौर पर आवेदन भरकर जमा करनी होगी। 

आवेदन स्वीकृत होने पर पर्यटक एंगुइला में एक साल तक रह सकते हैं। एंगुइला के पर्यटक बोर्ड के मुताबिक यह आवेदन उन पर्यटकों को लेकर तैयार की गई हैं, जो 31 अक्टूबर तक आना चाहते हैं। 1 नवंबर या उसके बाद आने के इच्छुक पर्यटकों को सितंबर में मौका मिलेगा। 

कोरोना मुक्त घोषित-
मार्च से अब तक एंगुइला में कोरोना वायरस के तीन मामले दर्ज किए गए हैं, जबकि मौत किसी की नहीं है। सीडीसी ने इसे बहुत कम कोविड-19 खतरे वाला बताया है। सेंटर्स फॉर डिसीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन ने इस समय सभी अनावश्यक अंतरराष्ट्रीय यात्राओं पर रोक लगाई है। आइलैंड की टूरिस्ट वेबसाइट पर विज्ञापन में इसे कोरोना मुक्त स्टेटस दिया गया है। 

ज्यादा वक्त वालों को प्राथमिकता-
एंगुइला के पर्यटन संसदीय सचिव क्विनसिया गम्स-मैरी ने एक बयान में कहा कि आइलैंड पर एक साल या उससे अधिक रहने के इच्छुक आवेदकों को कम अवधि तक रहने के इच्छुक लोगों से ज्यादा प्राथमिकता दी जाएगी। 

स्कूलिंग की भी सुविधा-
यहां सालभर रहकर पर्यटक काम कर सकते हैं। पर्यटक बोर्ड ने इसकी जानकारी भी दी है कि बच्चे की स्कूलिंग के लिए कैसे रजिस्टर कराएं। इसके अलावा द्वीप के दो इंटरनेट प्रोवाइडर, ग्रॉसरी और सुविधा स्टोर्स की भी जानकारी दी गई है। 

प्रति व्यक्ति फीस-
एप्लीकेशन स्वीकृत होने के बाद यात्रियों को एंगुइला सरकार को फीस चुकानी होगी। फीस में दो कोविड-19 टेस्ट भी शामिल हैं। तीन महीने से कम अवधि तक रहने वालों को प्रति व्यक्ति 1,000 डॉलर (75 हजार रुपये)देने होंगे। वहीं चार लोगों के परिवार को 1,500 डॉलर (112000 हजार रुपये) देने होंगे। चार से अधिक के परिवार वालों को अतिरिक्त शुल्क देना होगा।


Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

तीसरी लहर का खतरा

आज जब पूरा देश कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर के विनाशकारी नतीजों से निपटने में लगा है, यह सूचना मन में मिश्रित भाव पैदा...

मराठा आरक्षण को ना

सुप्रीम कोर्ट ने बुधवार को एक महत्वपूर्ण फैसले में महाराष्ट्र के उस कानून को असंवैधानिक करार दिया जिसके तहत मराठा समुदाय के लिए शिक्षा...

बंगाल में हिंसा बंद हो

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के नतीजे आने के बाद राजनीतिक हिंसा का मामला तूल पकड़ गया है, जिसमें अब तक 12 लोगों की मौत...

वैक्सीन मैन का दुख

लंदन के अखबार फाइनैंशल टाइम्स को दिए इंटरव्यू में सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ इंडिया के अदार पूनावाला ने कहा है कि भारत में आने वाले...

Recent Comments