Home Gadgets आम- नींबू का अचार तो बहुत खाया होगा अब ट्राई करें कटहल...

आम- नींबू का अचार तो बहुत खाया होगा अब ट्राई करें कटहल का अचार, लोग भी पूछेंगे क्या है Recipe

Kathal Ka Achaar Recipe: अक्सर बात जब अचार की होती है तो लोगों की जुबान पर आम-नींबू का ही नाम सबसे पहले आता है। लेकिन क्या आप जानते हैं, एक ऐसा अचार भी है जो स्वाद और खुशबू में आम-नींबू ही नहीं बाकी सब्जियों के अचार को भी मात देता है। जी हां और वो है कटहल का अचार। आप सोच रहे होंगे ये अचार बनाने में जरूर मुश्किल होगा तो आपको बता दें कि यह अचार स्वाद में तो बेमिसाल है ही, साथ ही बनने में भी बेहद आसान। तो देर किस बात की आइए जानते हैं कैसे बनाया जाता है कटहल का ये टेस्टी अचार।   

कटहल का अचार बनाने के लिए लगने वाली सामग्री-
-3 किलो कटहल कटा हुआ

-1 1/4 कप नमक
-1 कप हल्दी
-2 1/2 कप पिसी हुई राई
-1 कप लाल मिर्च पाउडर
-2 टेबल स्पून कलौंजी
-2 टेबल स्पून हींग
-2 किलो सरसों का तेल

kathal ka achaar recipe

कटहल का अचार बनाने का तरीका-
कटहल का अचार बनाने के लिए सबसे पहले 1/4 कप नमक के साथ कटहल को उबालकर पानी से निकालने के बाद सूखने के लिए रख दें। कटहल के ठंडा होकर सूखने पर उसमें नमक, राई, लाल मिर्च, कलोंजी और हींग मिलाकर अच्छी तरह मिक्स कर लें।

अब इस कटहल को ढककर 4 दिन के लिए मैरीनेट होने के लिए अलग रख दें। याद रखें मैरीनेट किए हुए कटहल को दिन में एक बार जरूर चलाते रहें। अब इस कटहल को कांच की बरनी में भरकर ढक्कन अच्छे से बंद कर दें। अब सरसों के तेल को अच्छी तरह गर्म करके ठंडा करके कटहल की बरनी में डालें।

ध्यान रखें अचार तेल में पूरी तरह डूब जाना चाहिए। अचार को पकने में 2 से 3 दिन का समय लगेगा, इसके बाद अचार खाने के लिए पूरी तरह से तैयार हो जाता है। अचार में तेल यदि अच्छी मात्रा में होता है तो यह अचार भी बाकी अचार की तरह लंबे समय तक सुरक्षित रहता है। 


Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

इस्राइल-फलस्तीन विवाद: रुके हिंसा का यह दौर

इस्राइल और फलस्तीन के बीच पिछले एक हफ्ते से जारी भीषण गोलाबारी से चिंतित वैश्विक समुदाय ने ठीक ही अपील की है कि सबसे...

वैक्सीन में कितना अंतर हो

भारत में कोरोना वैक्सीन कोविशील्ड के दो डोज के बीच अंतर को बढ़ाकर 12 से 16 सप्ताह किए जाने के फैसले पर सवाल-जवाब का...

रजिस्ट्रेशन आसान हो, वैक्सीन के सुरक्षा घेरे में सब लाए जाएं

देश में 18 साल से ऊपर के सभी लोगों को टीकाकरण के दायरे में लाने की शुरुआत इस महीने की पहली तारीख से हुई,...

केंद्र ही खरीदे टीका

दिल्ली सरकार ने कोवैक्सीन की कमी की बात कहते हुए 18-44 साल आयुवर्ग के लिए चल रहे 100 टीकाकरण केंद्र बंद कर दिए हैं।...

Recent Comments