Home Sport संन्यास के चंद मिनट बाद CSK के बोलिंग कोच से मिले थे...

संन्यास के चंद मिनट बाद CSK के बोलिंग कोच से मिले थे धोनी, जानिए क्या हुई थी बात

चेन्नै
भारत के पूर्व तेज गेंदबाज लक्ष्मपति बालाजी (Lakshmipathy Balaji) ने महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) की तारीफ की है और कहा है कि उनका प्रभाव सिर्फ भारतीय क्रिकेट पर ही नहीं रहा बल्कि पूरे विश्व क्रिकेट पर रहा। धोनी ने 15 अगस्त को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास की घोषणा कर दी थी। बालाजी ने स्टार स्पोटर्स तमिल के शो पर कहा, ‘साल 2000 से मेरे हिसाब से कोई भी धोनी जैसा नहीं रहा जिसने न सिर्फ भारतीय क्रिकेट पर बल्कि पूरे क्रिकेट पर प्रभाव छोड़ा हो।’

उन्होंने कहा, ‘मैंने बहुत बुरी मार के बारे में सुना था। ऐसी मार के बारे में कि गेंदबाज और फील्डर अपने हाथ डालने में डरते थे। मैंने पहली बार इसे धोनी के साथ देखा।’ उन्होंने कहा, ‘अभी भी अगर आखिरी ओवर में 20 रन चाहिए होंगे और मुझे किसी को चुनना होगा तो मैं हमेशा धोनी को चुनूंगा। उनका इतना बड़ा प्रभाव रहा है।’ धोनी आईपीएल टीम चेन्नै सुपर किंग्स के कप्तान हैं और बालाजी गेंदबाजी सलाहकार हैं। बालाजी ने कहा कि धोनी की कप्तानी और बल्लेबाजी शैली बिल्कुल अलग है।

MS Dhoni Retirement News Update: महेंद्र सिंह धोनी के लंबे क्रिकेट करियर की कुछ अनसुनी कहानियां


अभ्यास सत्र के दौरान धोनी से हुई थी बात
उन्होंने कहा, ‘धोनी की कप्तानी ने सभी कप्तानों में कप्तानी के नजरिए को बदल दिया। वह मैदान पर जिस तरह से अपनी भावनाओं को काबू करते हैं, टीम माहौला को बनाए रखते हैं, सफलता पूर्वक टीम की कमान संभालते हैं, यह सिर्फ धोनी ही कर सकते हैं।’ बालाजी ने संन्यास की घोषणा वाले दिन चेन्नै के अभ्यास सत्र के दौरान धोनी के साथ हुई बातचीत का जिक्र किया। उन्होंने कहा, ‘जब अभ्यास खत्म हो गया था, मैं धोनी से अधिकतर विकेट के बारे में बात करता हूं, अभ्यास के बारे में और खेलने की स्थिति के बारे में बात करता हूं। उस दिन मैंने अभ्यास खत्म किया और अंदर गया।’

IPL 2020: यूएई जाने से पहले हंसते-मुस्कुराते दिखे धोनी और रैना

संन्यास लेने के बाद पिच पर पानी डलवा रहे थे माही, मैं भी था बेखबर
उन्होंने कहा, ‘मुझे नहीं पता था कि वह 7:29 को अपना संन्यास का ऐलान कर चुके हैं। मैसेज पोस्ट करने के बाद धोनी मेरे पास आए और सामान्य तरीके से कहा कि उन्होंने ग्राउंडसमैन से पिच पर थोड़ा ज्यादा पानी डालने को कहा है। मैंने कहा ठीक है।’ बालाजी ने कहा, ‘और मुझे पता नहीं चला कि यह मेरी जिंदगी का सबसे बड़ा पल है, लेकिन वह आम माहौल की तरह आगे बढ़ गए और आपके लिए यही धोनी है। मुझे बाद में पता चला की उन्होंने संन्यास ले लिया है। मुझे इस बात को पचाने में कुछ समय लगा।’

धोनी के रिटायरमेंट पर पीएम मोदी का भावुक खत, जवाब में ये बोले माही

उन्होंने कहा, ‘धोनी की खासियत है कि वह किस तरह अपने आप को चीजों से अलग रखते हैं। चाहे स्थिति कैसी भी हो वह कभी रुकते नहीं हैं और अपनी स्टाइल में आगे बढ़ते रहते हैं।’ धोनी 19 सितंबर से 10 नवंबर के बीच संयुक्त अरब अमीरात में होने वाले आईपीएल के 13वें सीजन में चेन्नै सुपर किंग्स की कप्तानी करेंगे।

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

रजिस्ट्रेशन आसान हो, वैक्सीन के सुरक्षा घेरे में सब लाए जाएं

देश में 18 साल से ऊपर के सभी लोगों को टीकाकरण के दायरे में लाने की शुरुआत इस महीने की पहली तारीख से हुई,...

केंद्र ही खरीदे टीका

दिल्ली सरकार ने कोवैक्सीन की कमी की बात कहते हुए 18-44 साल आयुवर्ग के लिए चल रहे 100 टीकाकरण केंद्र बंद कर दिए हैं।...

गांवों में फैला कोरोना

जहां एक ओर बुरी तरह प्रभावित राज्यों और बड़े शहरों में कोरोना संक्रमण की स्थिति में हल्का सुधार दिखने से राहत महसूस की जा...

तालमेल से बनेगी बात

केंद्र सरकार ने सोमवार को में वैक्सीन पॉलिसी पर अपने रुख का बचाव करते हुए कहा कि महामारी से कैसे निपटना है, यह...

Recent Comments