Home Sport अर्जुन अवॉर्ड नहीं मिलने पर नाराज साक्षी मलिक ने पीएम मोदी और...

अर्जुन अवॉर्ड नहीं मिलने पर नाराज साक्षी मलिक ने पीएम मोदी और खेल मंत्री किरेन रीजिजू को लिखा पत्र

रियो ओलंपिक की कांस्य पदक विजेता और खेल के सर्वोच्च पुरस्कार राजीव गांधी खेल रत्न से सम्मानित हो चुकीं भारतीय महिला पहलवान साक्षी मलिक ने अर्जुन अवॉर्ड नहीं मिलने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय खेल मंत्री किरेन रीजिजू को पत्र लिख कर अपनी नाराजगी व्यक्त की है। खेल मंत्रालय ने शुक्रवार को अर्जुन पुरस्कार विजेताओं के नामों की घोषणा की थी जिसमें महिला पहलवान साक्षी और भारोत्तोलन विश्व चैंपियन मीराबाई चानू का नाम हटा दिया गया था। इस पर साक्षी ने अपनी नाराजगी व्यक्त की है। खेल मंत्रालय ने हालांकि इन दोनों के नाम शामिल नहीं करने पर कहा था कि इन लोगों को क्रमश: 2016 तथा 2018 में खेल रत्न मिल चुका है इसलिए इन्हें अर्जुन पुरस्कार से सम्मानित नहीं किया जा रहा है।

रोहित, मरियप्पन, मनिका, विनेश और रानी को मिलेगा खेल-रत्न अवॉर्ड

27 साल की साक्षी ने पत्र में लिखा है कि हर एथलीट का सपना होता है कि वह अपने नाम के आगे ज्यादा से ज्यादा पदक हासिल करे। साक्षी ने प्रधानमंत्री और खेल मंत्री से पूछा कि वह अब कौन सा पदक जीतें जिससे उन्हें अर्जुन पुरस्कार दिया जाए और क्या उनके कुश्ती करियर में उन्हें कभी इस सम्मान से नवाजा भी जाएगा। साक्षी ने पत्र को ट्वीट कर कहा कि माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी और माननीय खेल मंत्री रीजिजू जी, मुझे खेल रत्न से सम्मानित किया गया है और मुझे इस बात का गर्व है। हर खिलाड़ी का सपना होता है कि वो सारे पुरस्कार अपने नाम करे।

जो कभी खेलता था नेशनल टीम में फुटबॉल, आज सड़क किनारे बेच रहा

उन्होंने कहा कि खिलाड़ी इसके लिए अपनी जान की बाजी लगाता है। मेरा भी सपना है कि मेरे नाम के आगे अर्जुन पुरस्कार विजेता लगे। मैं ऐसा और कौन सा पदक देश के लिए लेकर आऊं कि मुझे अर्जुन पुरस्कार से सम्मानित किया जाए। या इस कुश्ती जीवन में मुझे कभी यह पुरस्कार जीतने का सौभाग्य मिलेगा या नहीं। हरियाणा की साक्षी ने 2016 रियो ओलंपिक में कांस्य पदक के अलावा 2017 राष्ट्रमंडल कुश्ती चैंपियनशिप में स्वर्ण, नई दिल्ली में एशियाई कुश्ती चैंपियनशिप में रजत और 2018 राष्ट्रमंडल खेलों में कांस्य पदक जीता था। उन्हें खेल रत्न के अलावा देश के चौथे सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार पद्मश्री से भी नवाजा जा चुका है।
 


Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई को कर सकता है कमजोर वायु प्रदूषण, वैज्ञानिकों ने जताई चिंता

दिल्ली समेत उत्तर भारत के अधिकतर हिस्सों में धुंध छाने और हवा की गुणवत्ता में तेजी से गिरावट आने के बीच वैज्ञानिकों ने आगाह...

Covid-19: पिछले 24 घंटे में 59,105 लोगों ने दी संक्रमण को मात

देश में इस महीने में दूसरी बार 24 घंटे के अंदर 50 हजार से कम नए मामले सामने आए। वहीं, इस दौरान मरने वालों...

कोविड-19 : इजरायल में एक नवंबर से शुरू होगा टीके का परीक्षण

इजरायल के एक इंस्टीट्यूट ने कोविड-19 के लिए टीका तैयार किया है, जिसका नाम 'ब्रिलाइफ' है। अब स्वास्थ्य मंत्रालय और हेलसिंकी समिति ने इस...

कोविड-19 टीका के तीसरे चरण का परीक्षण भुवनेश्वर में जल्द होगा शुरू

कोविड-19 के खिलाफ स्वदेशी टीका कोवैक्सीन के इंसानों पर परीक्षण का तीसरा चरण जल्द ही यहां एक निजी अस्पताल में शुरू होगा । एक...

Recent Comments