Home Sport एमएस धोनी और सुरेश रैना को खास पत्र, इस मामले में भी...

एमएस धोनी और सुरेश रैना को खास पत्र, इस मामले में भी दो कदम आगे हैं पीएम नरेंद्र मोदी

हाइलाइट्स:

  • पीएम नरेंद्र मोदी ने हाल ही में रिटायरमेंट लेने वाले पूर्व कप्तान एमएस धोनी और सुरेश रैना को पत्र लिखा
  • उन्होंने अपने बड़े खत के माध्यम से दोनों खिलाड़ियों के करियर पर प्रकाश डालते हुए भविष्य के लिए शुभकामनाएं दीं
  • दोनों क्रिकेटरों ने पीएम मोदी के पत्र को सोशल मीडिया पर शेयर करते हुए उन्हें धन्यवाद भी कहा

नई दिल्ली
पूर्व भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी और ऑलराउंडर सुरेश रैना ने 15 अगस्त यानी स्वतंत्रता दिवस के मौके पर इंटरनैशनल क्रिकेट से अचानक रिटायरमेंट का ऐलान कर दिया। फैन्स हैरान थे और उदास दिल से अपने हीरोज को भविष्य के लिए शुभकामना दी। इस मौके पर पीएम नरेंद्र मोदी ने भी दोनों ही दिग्गज क्रिकेटरों को खास पत्र लिखा और अपने लंबे पत्र में उन्होंने धोनी (PM Modi Letter To MS Dhoni) और रैना (PM Modi Letter To Suresh Raina) के हर एक पक्ष पर प्रकाश डालते हुए भविष्य के लिए शुभकामनाएं दीं।

अमूमन ऐसा कम ही देखने को मिलता है कि देश का पीएम किसी खिलाड़ी के संन्यास पर इस तरह का लंबा इमोशनल पत्र लिखते हों, लेकिन मोदी का यही अंदाज लोगों को कायल बना देता है। वह देश के छोटे से छोटे खिलाड़ी को एंजॉय करते हैं, ट्वीट करते हैं और बधाई देते हैं। वह हर खिलाड़ी को प्रोत्साहित करने की करने की पूरी कोशिश करते हैं। मन की बात में भी वह अक्सर खिलाड़ियों का उदाहरण देते आए हैं। यही नहीं, समय निकालकर देश का मान बढ़ाने वाले खिलाड़ी के कार्यक्रम (शादी या रिसेप्शन) में भी पहुंचते हैं।

पीएम ने धोनी को पत्र में ये बातें लिखीं
मोदी ने धोनी के नाम इस चिट्ठी में लिखा कि आपमें नए भारत की आत्मा झलकती है, जहां युवाओं की नियति उनका परिवार का नाम तय नहीं करता है, बल्कि वे अपना खुद का मुकाम और नाम हासिल करते हैं। मोदी ने धोनी को लिखा, ’15 अगस्त को आपने अपने सादे अंदाज में एक छोटा वीडियो साझा किया जो पूरे देश में एक लंबी और जुनूनी बहस के लिए काफी था। 130 करोड़ भारतीय निराश हैं लेकिन साथ ही जो आपने पिछले डेढ़ दशक में भारत के लिए किया उसके लिए आपके आभारी भी हैं।’

मोदी ने लिखा, ‘मैं भारतीय सेना के साथ आपके खास लगाव का भी जिक्र करना चाहूंगा। सेना के साथ आप काफी खुश नजर आते हैं। उनकी भलाई के लिए आपकी चिंता काबिले-तारीफ है।’ पीएम ने उम्मीद जताई कि धोनी अब अपने परिवार के साथ ज्यादा समय बिता पाएंगे। उन्होंने लिखा, ‘मुझे उम्मीद है कि अब साक्षी और जीवा को आपके साथ ज्यादा वक्त बिताने को मिलेगा। मैं उन्हें भी शुभकामनाएं देता हूं क्योंकि उनके बलिदान और सपॉर्ट के बिना कुछ भी संभव नहीं था। हमारे युवा सीख सकते हैं कि कैसे निजी और व्यावसायिक जीवन को अलग रखा जाता है। मुझे याद है कि कैसे आप अपनी बेटी के साथ खेल रहे थे और आपके इर्द-गिर्द सभी सेलिब्रेट कर रहे थे। यह महेंद्र सिंह धोनी हैं।’

पढ़ें- धोनी ने तारीफ और शुभकामनाओं के लिए पीएम मोदी को कहा शुक्रिया

मोदी ने आगे लिखा, ‘आपके करियर को देखने का एक तरीका आंकड़ों के चश्मे से देखने का है। आप भारतीय क्रिकेट के सबसे कामयाब कप्तानों में शामिल हैं। भारत को दुनिया में चोटी की टीम बनाने में आपकी महत्वपूर्ण भूमिका रही है। क्रिकेट के इतिहास में आपका नाम दुनिया के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजों में, सर्वश्रेष्ठ कप्तानों में और नि:संदेह सर्वश्रेष्ठ विकेटकीपर्स में आएगा। ‘ उन्होंने आगे लिखा, ‘मुश्किल हालात में आप पर निर्भरता और मैच को खत्म करने का आपका स्टाइल, खास तौर पर 2011 वर्ल्ड कप फाइनल, पीढ़ियों तक लोगों को याद रहेगा।’

धोनी के रिटायरमेंट पर पीएम मोदी का भावुक खत, जवाब में ये बोले माही

प्रधानमंत्री ने आगे लिखा, ‘लेकिन महेंद्र सिंह धोनी का नाम सिर्फ उनके करियर के आंकड़ो के लिए याद नहीं किया जाएगा और न ही किसी इकलौते मैच को जीतने में उनकी भूमिका के लिए जाना जाएगा। आपको सिर्फ एक खिलाड़ी के रूप में देखना अन्याय होगा। आपको देखने का सही तरीका एक घटना है!’ पीएम ने लिखा, ‘एक छोटे शहर से उठकर आप राष्ट्रीय पटल पर छा गए, आपने अपने लिए नाम बनाया और सबसे महत्वपूर्ण देश को गौरवांवित किया। आपकी तरक्की और उसके बाद के जीवन ने उन करोड़ों नौजवानों को प्रेरणा दी तो महंगे स्कूलों या कॉलेजों में नहीं गए, न ही वे किसी प्रतिष्ठित परिवार से आते हैं लेकिन उनके पास स्वयं को सर्वोच्च स्तर पर स्थापित करने की क्षमता है।’

मोदी ने लिखा, ‘आपमें नए भारत की आत्मा झलकती है, जहां युवाओं की नियति उनका परिवार का नाम तय नहीं करता है, बल्कि वे अपना खुद का मुकाम और नाम हासिल करते हैं।’ पीएम ने लिखा, ‘हम कहां से आए हैं यह बहुत ज्यादा मायने नहीं रखता जब तक हमें यह मालूम हो कि हम किस दिशा में जा रहे हैं- आपने यही भावना प्रदर्शित की और कई युवाओं को इससे प्रेरित किया।’

पीएम ने रैना को पत्र में ये बातें लिखीं
धोनी को प्रशंसा पत्र लिखने के बाद मोदी ने रैना को दो पन्ने का पत्र लिखकर कहा, ‘मैं संन्यास शब्द का इस्तेमाल नहीं करना चाहता, क्योंकि आप को काफी युवा और ऊर्जावान हैं।’ रैना ने यह पत्र ट्विटर पर साझा किया है। उन्होंने लिखा, ‘आपके क्रिकेट करियर में कई बार चोटों के कारण आपको नाकामी झेलनी पड़ी लेकिन आप हर बार उन चुनौतियों से निखरकर आए।’ रैना ने प्रधानमंत्री को धन्यवाद देते हुए ट्वीट किया, ‘जब हम खेलते हैं तो देश के लिए खून पसीना देते हैं। देशवासियों से मिले प्यार और देश के प्रधानमंत्री से मिले इस प्यार से बड़ी कोई प्रशंसा नहीं। धन्यवाद नरेंद्र मोदी जी आपकी प्रशंसा और शुभकामनाओं के लिए।’

मोदी ने पत्र में लिखा कि उन्होंने मोटेरा में 2011 विश्व कप क्वॉर्टर फाइनल में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ रैना की 34 रन की नाबाद पारी का पूरा मजा लिया था। उन्होंने लिखा, ‘भारत 2011 विश्व कप में आपकी प्रेरणास्पद भूमिका को नहीं भुला सकता। मैंने मोटेरा स्टेडियम में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ क्वॉर्टर फाइनल में आपको पारी के सूत्रधार की भूमिका निभाते देखा।’ मोदी ने कहा, ‘मैं पूरे विश्वास के साथ कह सकता हूं कि प्रशंसकों को आपके कवर ड्राइव्स की कमी खलेगी जो मैने उस दिन देखे।’ मोदी उस समय गुजरात के मुख्यमंत्री थे। उन्होंने रैना को परिपक्व ‘टीम मैन’ बताया जो दूसरों की सफलता का जश्न मनाता था।

IPL 2020: यूएई जाने से पहले हंसते-मुस्कुराते दिखे धोनी और रैना

उन्होंने लिखा, ‘सुरेश रैना हमेशा टीम भावना के लिए याद किए जाएंगे। आपके निजी रेकॉर्ड के लिए नहीं बल्कि टीम के और देश के गौरव के लिए खेला।’ उन्होंने लिखा, ‘टीम पर आपको उत्साह प्रेरणास्पद था और हमने देखा है कि विरोधी टीम का विकेट गिरने पर सबसे पहले आप ही जश्न मनाते थे।’ मोदी ने कहा, ‘एक बल्लेबाज के तौर पर आप सभी प्रारूपों खासकर टी20 में बखूबी ढले हुए थे। यह आसान प्रारूप नहीं है।’ उन्होंने कहा, ‘इसमें काफी चुस्ती फुर्ती की जरूरत होती है। आपकी रफ्तार और चुस्ती टीम के लिए काफी काम आती रही है।’

पढ़ें- पीएम मोदी ने रैना से कहा, ‘आप ‘रिटायर’ होने के लिए बहुत युवा हो’

प्रधानमंत्री ने उनके चुस्त क्षेत्ररक्षण की तारीफ करते हुए कहा, ‘आपकी फील्डिंग शानदार और मिसाल रही। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में कुछ बेहतरीन कैच आपने लपके। चुस्त क्षेत्ररक्षण से आपने कई रन बचाए।’ उन्होंने स्वच्छ भारत अभियान और महिला सशक्तिकरण में योगदान के लिए भी रैना की सराहना की। उन्होंने कहा, ‘मुझे खुशी है कि आप भारत की सांस्कृतिक जड़ों से जुड़े हैं और हमारे गौरवशाली लोकाचार के साथ-साथ भारतीय मूल्यों से युवाओं के जुड़ाव को गहरा करने पर मुझे गर्व है।’ मोदी ने कहा, ‘मुझे विश्वास है कि आप आने वाले समय में जो भी करेंगे, उसमें इतनी ही सार्थक और सफल पारी रहेगी।’

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

बच्चों की मेंटल हेल्थ पर पड़ा है कोरोना महामारी का असर, बाल आयोग ने शुरू की ‘संवेदना’ पहल

कोरोना संक्रमण के चलते मानसिक रूप से प्रभावित हो रहे बच्चों के लिए बाल अधिकार संरक्षण आयोग ने नई पहल की है। आयोग ने...

जुनून ने प्रोफेसर को बना दिया चंदन के बाग का मालिक, पढ़ें दिलचस्प किस्सा

उत्तर-प्रदेश के सुल्तानपुर  में एक  प्रोफेसर के कुछ अलग करने के जुनून ने उन्हें 'चंदन'के बाग का मालिक बना  दिया। अब वह अपने भाई...

सफेद मोती जैसा साबूदाना कैसे बनता है और क्या है इसे बनाने की प्रक्रिया, जानें गुण 

व्रत में खाए जाने वाली चीजों में साबूदाना सबसे ज्यादा खाया जाता है व्रत के बिना भी कुछ लोग इसे अपनी दिनचर्या में शामिल...

कोरोना काल में जन्म लेने वाले बच्चों के साथ जुड़े हैं ये फायदे, इस अवधि में जन्मे बच्चों को कहा जाएगा कोरोनियल

कोरोना महामारी के शुरुआती दौर में गर्भवती महिलाओं के बीच काफी डर था। महामारी के बढ़ते प्रकोप के चलते होने वाले बच्चों को क्या...

Recent Comments