Home Sport 'गोवा SOP और गृह मंत्रालय की गाइडलाइंस के तहत ISL की मेजबानी...

‘गोवा SOP और गृह मंत्रालय की गाइडलाइंस के तहत ISL की मेजबानी करेगा’

गोवा के खेल मंत्री मनोहर अजगांवकर ने कहा कि कोविड-19 महामारी के मद्देनजर राज्य में इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) का आयोजन मानक संचालन प्रक्रिया (एसओपी) और केन्द्रीय गृह मंत्रालय के दिशानिर्देशों के तहत होगा। अजगांवकर ने रविवार को संवाददाताओं से कहा कि गोवा सरकार देश की इस शीर्ष घरेलू फुटबॉल प्रतियोगिता की मेजबानी करके पर्यटन को बढ़ावा देने की कोशिश करेगी। आईएसएल के आयोजकों ने रविवार को कहा कि सातवें चरण के सभी मैच गोवा में तीन स्थलों पर कराये जायेंगे जिसके नवंबर में आयोजित होने की संभावना है।

लुईस हैमिल्टन ने स्पेनिश ग्रां प्री जीती, करियर की 88वीं जीत

इस दौरान कोविड-19 महामारी के चलते कड़े सुरक्षा उपाय अपनाए जाएंगे। महामारी के दौरान खिलाड़ियों और अधिकारियों की यात्रा को कम करने के चलते आईएसएल आयोजक इस बार लीग को एक ही राज्य में आयोजित करना चाहते थे। मडगांव के फतोर्डा में जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम, वास्को डि गामा में तिलक नगर स्टेडियम और बैम्बोलम में जीएमसी एथलेटिक स्टेडियम कड़े ट्रेनिंग एवं सामाजिक दूरी के प्रोटोकॉल के साथ मैचों की मेजबानी करेंगे।

सिमोना हालेप ने प्राग ओपन में 21वां डब्ल्यूटीए खिताब जीता

अजगांवकर ने कहा कि गोवा सरकार राज्य में आईएसएल की मेजबानी करने से खुश है। उन्होंने कहा कि हमने गोवा में आईएसएल मैचों के लिए पहले ही अनुमति दे दी है। इस दौरान सभी एसओपी के साथ गृह मंत्रालय के दिशानिर्देशों का पालन किया जाएगा। उन्होंने कहा कि मैचों का आयोजन दर्शकों के बिना होगा। मंत्री ने कहा कि अगर हमने कोविड-19 से निजात पाने का तरीका ढूंढ लिया तो स्टेडियमों में दर्शकों को अनुमति दी जा सकती है।


Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

इस्राइल-फलस्तीन विवाद: रुके हिंसा का यह दौर

इस्राइल और फलस्तीन के बीच पिछले एक हफ्ते से जारी भीषण गोलाबारी से चिंतित वैश्विक समुदाय ने ठीक ही अपील की है कि सबसे...

वैक्सीन में कितना अंतर हो

भारत में कोरोना वैक्सीन कोविशील्ड के दो डोज के बीच अंतर को बढ़ाकर 12 से 16 सप्ताह किए जाने के फैसले पर सवाल-जवाब का...

रजिस्ट्रेशन आसान हो, वैक्सीन के सुरक्षा घेरे में सब लाए जाएं

देश में 18 साल से ऊपर के सभी लोगों को टीकाकरण के दायरे में लाने की शुरुआत इस महीने की पहली तारीख से हुई,...

केंद्र ही खरीदे टीका

दिल्ली सरकार ने कोवैक्सीन की कमी की बात कहते हुए 18-44 साल आयुवर्ग के लिए चल रहे 100 टीकाकरण केंद्र बंद कर दिए हैं।...

Recent Comments