Home News 'अभय 2' में क्रिमिनल बोर्ड पर लगा दी शहीद खुदीराम बोस की...

‘अभय 2’ में क्रिमिनल बोर्ड पर लगा दी शहीद खुदीराम बोस की फोटो, लोगों के गुस्से के बाद चैनल ने माफी मांगी

इस समय ओटीटी प्लेटफॉर्म पर लगातार वेब सीरीज रिलीज हो रही हैं। हाल ही रिलीज हुई वेब सीरीज ‘अभय 2’ को लेकर एक विवाद खड़ा हो गया है। दरअसल, सीरीज के एक सीन में क्रिमिनल बोर्ड पर शहीद खुदीराम बोस की फोटो दिख रही है। जिसके चलते लोग जी5 का बायकॉट करने की मांग कर रहे हैं। वहीं, चैनल ने माफी मांग ली है।

‘अभय 2’ के एक सीन में पुलिस स्टेशन में अपराधियों की तस्वीरों के बीच स्वतंत्रता सेनानी खुदीराम बोस की तस्वीर लगी हुई है। इस सीन में कुणाल एक कुर्सी पर बैठे अपराधी से बात-चीत करते दिखते हैं। इंटरनेट पर इस सीन का स्क्रीन शॉट खूब वायरल हो रहा है।

जी5 और ‘अभय 2’ के डायरेक्टर केन घोष ने माफी मांग ली है। जी5 सपॉर्ट की ने पहला ट्वीट करते हुए लिखा, ‘ऐपिसोड जल्द ही आएगा। हम इस गलती के लिए बिना शर्त माफी चाहते हैं।’ वहीं, दूसरे ट्वीट में लिखा, ‘शो के प्रड्यूसर्स, शो और प्लेटफॉर्म का मकसद किसी समुदाय या व्यक्ति को दुख पहुंचाना नहीं था। ऑडियंस की तरफ से मिली फीडबैक और उनके सम्मान को ध्यान में रखते हुए हमने अभय 2 के इस सीन में तस्वीर को ब्लर कर दिया है।’

‘अभय 2’ वेब सीरीज़ साल 2019 में आई ‘अभय’ वेब सीरीज का ही दूसरा सीजन है। इसमें कुणाल खेमू के साथ आशा नेगी, राम कपूर, निधि सिंह, चंकी पांडे, राघव जुयाल, और बिदिता बाग भी नजर आए हैं।

बता दें कि खुदीराम बोस ने भारतीय स्वतंत्रता सेनानियों पर अत्याचार के लिए कुख्यात ब्रिटिश न्यायाधीश मैजिस्ट्रेट डगलस किंग्सफोर्ड की हत्या करने की कोशिश की थी। इसके बाद उन्हें 18 वर्ष की उम्र 11 अगस्त 1908 को फांसी दी गई थी। खुदीराम बोस भारत के दूसरे सबसे युवा स्वतंत्रता सेनानी थे।

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

इस्राइल-फलस्तीन विवाद: रुके हिंसा का यह दौर

इस्राइल और फलस्तीन के बीच पिछले एक हफ्ते से जारी भीषण गोलाबारी से चिंतित वैश्विक समुदाय ने ठीक ही अपील की है कि सबसे...

वैक्सीन में कितना अंतर हो

भारत में कोरोना वैक्सीन कोविशील्ड के दो डोज के बीच अंतर को बढ़ाकर 12 से 16 सप्ताह किए जाने के फैसले पर सवाल-जवाब का...

रजिस्ट्रेशन आसान हो, वैक्सीन के सुरक्षा घेरे में सब लाए जाएं

देश में 18 साल से ऊपर के सभी लोगों को टीकाकरण के दायरे में लाने की शुरुआत इस महीने की पहली तारीख से हुई,...

केंद्र ही खरीदे टीका

दिल्ली सरकार ने कोवैक्सीन की कमी की बात कहते हुए 18-44 साल आयुवर्ग के लिए चल रहे 100 टीकाकरण केंद्र बंद कर दिए हैं।...

Recent Comments