Home News जिया खान की मां का दावा- अंतिम संस्कार पर महेश भट्ट ने...

जिया खान की मां का दावा- अंतिम संस्कार पर महेश भट्ट ने धमकाया और कहा ‘चुप हो जाओ, तुम्हें भी सुला देंगे’

बॉलिवुड ऐक्टर सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद लगातार इस घटना पर शक जताया जा रहा है। इस बीच दिवंगत ऐक्ट्रेस जिया खान की मां राबिया खान की मां भी काफी मुखर हो गई हैं। राबिया का दावा है कि उनकी बेटी जिया खान की तरह ही दिशा सालियन और सुशांत सिंह राजपूत की कथित तौर पर हत्या की गई है। एक हालिया इंटरव्यू में राबिया ने यह भी दावा किया है कि जिया के अंतिम संस्कार में फिल्ममेकर महेश भट्ट ने उन्हें धमकाया था।

इंडिया टुडे टीवी चैनल को दिए इंटरव्यू में राबिया खान से पूछा गया कि क्या उनकी बेटी जिया डिप्रेशन से जूझ रही थीं जिसके कारण उन्होंने आत्महत्या कर ली। इसके जवाब में राबिया ने कहा कि ऐसा कोई नहीं कहता है सिवाय महेश भट्ट के। राबिया ने कहा कि जिया खान के अंतिम संस्कार पर महेश भट्ट उनके पास आए और कहा कि जिया अवसाद में थीं जिसपर राबिया ने आपत्ति जताई थी कि ऐसा कुछ नहीं था। राबिया की मां ने आगे कहा कि महेश भट्ट ने उन्हें कथित तौर पर धमकाते हुए कहा था, ‘तुम चुप हो जाओ, वरना तुम्हें भी इंजेक्शन देकर सुला देंगे।’ जिया की मां का कहना है कि बॉलिवुड में पीड़ितों को ही अपराधी बना दिया जाता है और फिर उनके परिवार पर आरोप लगाया जाता है कि वह पैसे के लिए सारे आरोप लगा रहे हैं।

Jiah Khan और Sushant Singh Rajput की मौत में बहुत चीजें कॉमन हैं: राबिया खान

महेश भट्ट सुशांत की आत्महत्या के बाद से लगातार इस बात को कह रहे हैं कि सुशांत डिप्रेशन से जूझ रहे थे। इसके जवाब में राबिया खान ने आरोप लगाया कि महेश भट्ट बॉलिवुड माफिया के माउथपीस हैं और उन्हें कुछ नहीं पता है। उन्होंने कहा कि जब 16 साल की उम्र में जिया खान महेश भट्ट के साथ काम कर रही थीं तो वह उन्हें डराते थे। राबिया ने यह भी कहा कि वह अपनी बेटी के लिए न्याय चाहती हैं और इन लोगों की सच्चाई सामने लाना चाहती हैं।

बता दें कि सुशांत सिंह राजपूत की तरह ही जिया खान अपने मुंबई के घर में मृत पाई गई थीं। जिया ने फांसी लगाई थी लेकिन उनकी मां का आरोप है कि जिया के कथित बॉयफ्रेंड रहे सूरज पंचोली उनकी हत्या के दोषी है। इस केस की जांच लगभग 4 साल से सीबीआई कर रही है। सीबीआई ने सूरज पंचोली पर आत्महत्या के लिए उकसाने के आरोप भी लगाए हैं।

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

वैक्सीन में कितना अंतर हो

भारत में कोरोना वैक्सीन कोविशील्ड के दो डोज के बीच अंतर को बढ़ाकर 12 से 16 सप्ताह किए जाने के फैसले पर सवाल-जवाब का...

रजिस्ट्रेशन आसान हो, वैक्सीन के सुरक्षा घेरे में सब लाए जाएं

देश में 18 साल से ऊपर के सभी लोगों को टीकाकरण के दायरे में लाने की शुरुआत इस महीने की पहली तारीख से हुई,...

केंद्र ही खरीदे टीका

दिल्ली सरकार ने कोवैक्सीन की कमी की बात कहते हुए 18-44 साल आयुवर्ग के लिए चल रहे 100 टीकाकरण केंद्र बंद कर दिए हैं।...

गांवों में फैला कोरोना

जहां एक ओर बुरी तरह प्रभावित राज्यों और बड़े शहरों में कोरोना संक्रमण की स्थिति में हल्का सुधार दिखने से राहत महसूस की जा...

Recent Comments