Home Sport जावेद मियांदाद की बातों पर बोले मदन लाल, 'उनकी मानसिक स्थिति ठीक...

जावेद मियांदाद की बातों पर बोले मदन लाल, ‘उनकी मानसिक स्थिति ठीक नहीं लगती’

नई दिल्ली
पाकिस्तान के पूर्व कप्तान जावेद मियांदाद (Javed Miandad) की गिनती अपने देश के लिए खेलने वाले सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजों में होती है। लेकिन आजकल वह सोशल मीडिया पर अपनी विवादास्पद बातों के लिए ज्यादा चर्चा में रहते हैं।

अपने हालिया वीडियो में उन्होंने देश के प्रधानमंत्री और वर्ल्ड कप विजेता कप्तान इमरान खान (Imran Khan) को निशाने पर लिया था। उन्होंने कहा था, ‘इमरान जब से पीएम बने हैं खुद को खुदा समझने लगे हैं।’

मियांदाद ने अपने यूट्यूब चैनल पर कहा था, ‘मैं तुम्हारा कप्तान था, तुम मेरे कप्तान नहीं थे। मैं पॉलिटिक्स में आऊंगा और फिर तुमसे बात करूंगा। मैंने हमेशा तुम्हारा नेतृत्व कया है, लेकिन अब तुम खुदा बन गए हो। तुम समझते हो कि पूरे मुल्क में तुम अकेले समझदार इनसान हो और दूसरा कोई ऑक्सफर्ड या कैम्ब्रिज या पाकिस्तान की ही किसी दूसरी यूनिवर्सिटी में नहीं गया है। लोगों के बारे में सोचो।’

मियांदाद के इस बयान पर पूर्व भारतीय क्रिकेटर मदन लाल ने हैरानी जताई है। उन्होंने कहा है कि ऐसा लगता है कि पूर्व पाकिस्तानी कप्तान अब ‘मानसिक रूप से थोड़ा अस्थिर’ हो गए हैं।

मदन लाल ने स्पोर्ट्स तक से बातचीत में कहा, ‘वह जो भी बोल रहे हैं, इसका कोई तुक नहीं है। इससे पता चलता है कि वह कितने एजुकेटेड हैं। इससे पहले उन्होंने कश्मीर और हमारे प्रधानमंत्री पर टिप्पणी की थी। मुझे लगता है कि वह मानसिक रूप से थोड़े अस्थिर हैं।’

मियांदाद ने वसीम खान को पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड का सीईओ बनाने पर भी इमरान खान की आलोचना की थी। मियांदाद का कहना था कि वसीम खान इंग्लैंड में ही पैदा हुए और वहीं पले बढ़े हैं।

उन्होंने कहा था, ‘पीसीबी के सभी अधिकारियों को क्रिकेट की ABC भी नहीं आती। मैं इमरान से निजी रूप से इन खराब हालात के बारे में बात करूंगा। जो भी गलत होगा मैं उसे इस देश में नहीं रहने दूंगा।’

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

वैक्सीन में कितना अंतर हो

भारत में कोरोना वैक्सीन कोविशील्ड के दो डोज के बीच अंतर को बढ़ाकर 12 से 16 सप्ताह किए जाने के फैसले पर सवाल-जवाब का...

रजिस्ट्रेशन आसान हो, वैक्सीन के सुरक्षा घेरे में सब लाए जाएं

देश में 18 साल से ऊपर के सभी लोगों को टीकाकरण के दायरे में लाने की शुरुआत इस महीने की पहली तारीख से हुई,...

केंद्र ही खरीदे टीका

दिल्ली सरकार ने कोवैक्सीन की कमी की बात कहते हुए 18-44 साल आयुवर्ग के लिए चल रहे 100 टीकाकरण केंद्र बंद कर दिए हैं।...

गांवों में फैला कोरोना

जहां एक ओर बुरी तरह प्रभावित राज्यों और बड़े शहरों में कोरोना संक्रमण की स्थिति में हल्का सुधार दिखने से राहत महसूस की जा...

Recent Comments