Home News CISF ने खारिज किए कनिमोझी के आरोप, हवाई अड्डों पर स्थानीय भाषा...

CISF ने खारिज किए कनिमोझी के आरोप, हवाई अड्डों पर स्थानीय भाषा जानने वाले और कर्मी होंगे तैनात

CISF ने खारिज किए कनिमोझी के आरोप, हवाई अड्डों पर स्थानीय भाषा जानने वाले और कर्मी होंगे तैनात

DMK पार्टी की सांसद कनिमोझी (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (CISF) ने कहा है कि हवाई अड्डों पर ऐसे कर्मियों की तैनाती अधिक संख्या में की जाएगी जो स्थानीय भाषा जानते हों. इससे पहले द्रमुक सांसद कनिमोझी ने आरोप लगाया था कि हवाई अड्डे पर एक सीआईएसफ कर्मी ने उनसे भारतीय होने के संबंध में सवाल पूछा क्योंकि उन्हें हिंदी नहीं आती. सीआईएसएफ के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कनिमोझी के आरोपों का खंडन किया और कहा कि महिला अधिकारी से हुई आरंभिक पूछताछ में इसकी पुष्टि नहीं हुई है. अधिकारी ने कहा कि नौ अगस्त को चेन्नई हवाई अड्डे पर जिस महिला अधिकारी ने सांसद से बात की, उसने पूछताछ के दौरान वरिष्ठ अधिकारियों को बताया कि उसने “वह शब्द नहीं कहे थे जो कनिमोझी कह रही हैं. बल्कि उसने केवल इतना ही कहा था कि हिंदी भी भारतीय या आधिकारिक भाषा है.”

यह भी पढ़ें

कनिमोझी ने घटना के बारे में ट्वीट कर हिंदी थोपे जाने का आरोप लगाया था. सीआईएसएफ अधिकारियों ने कहा कि चेन्नई हवाई अड्डे पर तैनात महिला अधिकारी से उसके आचरण के संबंध में कॉउंसलिंग की गई. उन्होंने कहा कि महिला अधिकारी दक्षिण भारतीय राज्य की रहने वाली है और उसने सामान्य सुरक्षा जांच के दौरान हिंदी में कनिमोझी से बात की थी. सीआईएसएफ के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, “उसने जांच दल को बताया कि उसने सांसद के हिंदी न जानने को लेकर उनकी भारतीयता के संबंध में कोई सवाल नहीं पूछा. अधिकारी ने सांसद से केवल इतना कहा कि हिंदी भी एक भारतीय या आधिकारिक भाषा है.”

कनिमोझी के साथ हिन्दी को लेकर भेदभाव पर बोले चिदम्बरम, ‘नया कुछ नहीं, मैंने भी झेला है…’

कनिमोझी द्वारा इस मसले पर ट्वीट किए जाने के बाद सीआईएसएफ ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से प्रतिक्रिया देते हुए कहा था कि मामले की जांच के आदेश दे दिए गए हैं और किसी एक भाषा को थोपना सीआईएसएफ की नीति नहीं है.सीआईएसएफ के महानिदेशक राजेश रंजन ने पीटीआई-भाषा से कहा, “हमारा ध्यान इस पर रहता है कि किसी भी प्रकार से संपर्क अच्छी तरह स्थापित होना चाहिए.”

हिंदी में नहीं बोल सकने पर CISF अधिकारी ने उनसे पूछा, क्या वह भारतीय हैं: कनिमोझी

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

तीसरी लहर का खतरा

आज जब पूरा देश कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर के विनाशकारी नतीजों से निपटने में लगा है, यह सूचना मन में मिश्रित भाव पैदा...

मराठा आरक्षण को ना

सुप्रीम कोर्ट ने बुधवार को एक महत्वपूर्ण फैसले में महाराष्ट्र के उस कानून को असंवैधानिक करार दिया जिसके तहत मराठा समुदाय के लिए शिक्षा...

बंगाल में हिंसा बंद हो

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के नतीजे आने के बाद राजनीतिक हिंसा का मामला तूल पकड़ गया है, जिसमें अब तक 12 लोगों की मौत...

वैक्सीन मैन का दुख

लंदन के अखबार फाइनैंशल टाइम्स को दिए इंटरव्यू में सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ इंडिया के अदार पूनावाला ने कहा है कि भारत में आने वाले...

Recent Comments