Home News Kumkum Bhagya की यह एक्ट्रेस चार साल तक बनी थीं कृष्ण, बोलीं-...

Kumkum Bhagya की यह एक्ट्रेस चार साल तक बनी थीं कृष्ण, बोलीं- एक बार भी राधा नहीं बनी क्योंकि…

Kumkum Bhagya की यह एक्ट्रेस चार साल तक बनी थीं कृष्ण, बोलीं- एक बार भी राधा नहीं बनी क्योंकि...

Janmashtami 2020: ‘कुमकुम भाग्य’ फेम पूजा बनर्जी बनती थीं कृष्ण

खास बातें

  • ‘कुमकुम भाग्य’ की एक्ट्रेस हैं पूजा बनर्जी
  • जन्माष्टमी पर बनती थीं कृष्ण
  • पूजा ने बताई यह वजह

नई दिल्ली:

Janmashtami 2020: जहां पूरे देश में लॉकडाउन धीरे-धीरे खुल रहा है और लोग न्यू नॉर्मल को अपना रहे हैं, वहीं जी टीवी ने भी अपने शोज की शूटिंग शुरू कर दी है और 13 जुलाई से एक बार फिर अपने दर्शकों को अपने पसंदीदा किरदारों के सफर से जोड़ दिया है. इस चैनल के सबसे पॉपुलर शो में से एक ‘कुमकुम भाग्य (Kumkum Bhagya)’ में भी इस समय दर्शकों को बड़े दिलचस्प ट्विस्ट देखने को मिल रहे हैं. हाल ही में इस शो में नई रिया के रोल में टेलीविजन एक्ट्रेस पूजा बनर्जी (Pooja Banerjee) की एंट्री हुई है. पूजा बनर्जी ने अपनी एक्टिंग से दिल जीतना भी शुरू कर दिया है. आखिर क्यों ना करें, वो बचपन से एक्टिंग जो कर रही हैं.

यह भी पढ़ें

जन्माष्टमी (Janmashtami 2020) के अवसर पर पूजा बनर्जी (Pooja Banerjee) ने अपने बचपन के उन दिनों को याद किया, जब वो कृष्ण लीला में भाग लेती थीं और राधा का रोल निभाने के बजाय उन्होंने कृष्ण का रोल निभाने की चुनौती स्वीकार की थी. पूजा बताती हैं, ‘जन्माष्टमी मेरे लिए बहुत खास त्यौहार है और इस त्यौहार से जुड़ी मेरी बहुत-सी यादें हैं. बचपन में मैं कई बार कृष्ण की वेशभूषा पहन चुकी हूं, लेकिन एक बार भी राधा नहीं बनी. असल में मेरा पहला नाटक था कृष्ण लीला, जिसमें 4 साल तक हर जन्माष्टमी पर मैं कान्हा का रोल निभाती रही और इसके लिए मुझे बहुत तारीफें भी मिलती थी. यह जन्माष्टमी से जुड़ा मेरा पहला अनुभव था. इसके बाद जब मैं बड़ी हुई तो नियमित रूप से रात 11 बजे मंदिर जाती थी, जहां हम लोग तब तक डांस करते थे, जब तक हम थक नहीं जाते थे. हालांकि, मुझे नहीं लगता कि इस साल हम लोग मंदिर में इसे सेलिब्रेट कर पाएंगे. लेकिन फिर भी मैं अपने घर पर एक छोटा-सा महोत्सव और पूजा करूंगी. ऐसी परिस्थितियों में मैं सभी से यह कहना चाहूंगी कि उम्मीद ना हारें. खुद को मजबूत और सुरक्षित रखें.’

पूजा के अलावा उनकी को-स्टार और कुमकुम भाग्य की नई आलिया रेहना पंडित (Reyhnaa Pandit) भी इससे पहले भगवान कृष्ण के अवतार में सज चुकी हैं. रेहना पंडित (Reyhnaa Pandit) ने बताया, ‘जन्माष्टमी से जुड़ीं मेरी कुछ खास यादें हैं, खास तौर पर नागपुर में गुजरे मेरे बचपन के दिनों की. मुझे याद है मैं इस त्यौहार पर अपनी मां के साथ व्रत रखती थी. मैं इसे लेकर बहुत उत्साहित रहती थी और कॉलोनी में सभी लोग साथ मिलकर इस फेस्टिवल को सेलिब्रेट करते थे. अपने परिवार और दोस्तों के साथ मिलकर यह त्यौहार मनाना मैं बहुत मिस करती हूं. मुझे याद है हम लोग फैंसी ड्रेस कॉम्पटिशन में भी हिस्सा लेते थे, जहां एक बार मॉम ने मुझे कान्हा (कृष्ण भगवान) और मेरी बहन को राधा बनाया था. यह बहुत मजेदार था और इस साल भी मैं इस त्यौहार को लेकर उत्साहित हूं. हालांकि इस बार मैं अपने परिवार और दोस्तों के साथ इसे सेलिब्रेट नहीं कर पाऊंगी, लेकिन मैं पूजा करूंगी और कुछ दान भी दूंगी. इस खास दिन पर मैं अपनी, ज़ी टीवी और कुमकुम भाग्य की टीम की ओर से सभी को जन्माष्टमी (Janmashtami 2020) की शुभकामनाएं देना चाहूंगी.’

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

बच्चों की मेंटल हेल्थ पर पड़ा है कोरोना महामारी का असर, बाल आयोग ने शुरू की ‘संवेदना’ पहल

कोरोना संक्रमण के चलते मानसिक रूप से प्रभावित हो रहे बच्चों के लिए बाल अधिकार संरक्षण आयोग ने नई पहल की है। आयोग ने...

जुनून ने प्रोफेसर को बना दिया चंदन के बाग का मालिक, पढ़ें दिलचस्प किस्सा

उत्तर-प्रदेश के सुल्तानपुर  में एक  प्रोफेसर के कुछ अलग करने के जुनून ने उन्हें 'चंदन'के बाग का मालिक बना  दिया। अब वह अपने भाई...

सफेद मोती जैसा साबूदाना कैसे बनता है और क्या है इसे बनाने की प्रक्रिया, जानें गुण 

व्रत में खाए जाने वाली चीजों में साबूदाना सबसे ज्यादा खाया जाता है व्रत के बिना भी कुछ लोग इसे अपनी दिनचर्या में शामिल...

कोरोना काल में जन्म लेने वाले बच्चों के साथ जुड़े हैं ये फायदे, इस अवधि में जन्मे बच्चों को कहा जाएगा कोरोनियल

कोरोना महामारी के शुरुआती दौर में गर्भवती महिलाओं के बीच काफी डर था। महामारी के बढ़ते प्रकोप के चलते होने वाले बच्चों को क्या...

Recent Comments