Home News बनारस में कोरोना काल की जन्माष्टमी पर पीपीई किट में नजर आ...

बनारस में कोरोना काल की जन्माष्टमी पर पीपीई किट में नजर आ रहे भगवान कृष्ण

बनारस में कोरोना काल की जन्माष्टमी पर पीपीई किट में नजर आ रहे भगवान कृष्ण

वाराणसी में भगवान कृष्ण की मूर्तियों को पीपीई किया पहनाई गई है.

वाराणसी:

Krishna Janmashtami: सिर पर कोरोना से बचाव की पगड़ी, बदन पर पीपीई किट और मुंह पर मास्क.. इस जन्माष्टमी पर कृष्ण भगवान की यह नई ड्रेस है.  जन्माष्टमी के मौके पर कोरोना से बचाव के सामान से सजे कृष्ण भगवान की झांकी ये बताती है कि कोरोना का असर समाज और हमारे तीज त्योहारों पर भी पड़ा है, तभी तो छोटे-छोटे मास्क, पीपीई किट और कोरोना से बचाव की मुकुट इस बार जन्माष्टमी में झांकी सजाने के लिए लोगों की पहली पसंद बना है. 

यह भी पढ़ें

दुकानदार  गणेश पटेल बताते हैं कि “लोगों को मास्क पीपीई किट और कोरोना मुकुट बहुत लुभा रहा है. हैं तो बहुत सी चीजें लेकिन हम लोग इस बार इसी को लेके आए हैं. लड्डू गोपाल के माध्यम से जनता को सन्देश देने की कोशिश कर रहे हैं कि लोग मास्क ग्लब्स  सोशल डस्टेंसिंग का पालन करें. 

इस सामने से अपने कृष्ण जी को सजाने वाले लोगों को भी लग रहा है कि इससे बड़ा सन्देश जाएगा. श्रद्धालु अनामिका बड़ा जोर देकर कहती हैं कि ” हम लोग जन्माष्टमी हर साल करते हैं लेकिन इस साल ये कोरोना वाला लुभा रहा है. कोरोना मुकुट है, मास्क है, हेंड कवर है. मतलब बीमारी से बचने के लिए भगवान के जरिए दर्शाया जा रहा है. 

साफ़ है कि हमारे त्यौहार समाज का आईना कहलाते हैं,  जिसके जरिए अच्छाई और बुराई का सन्देश देने की प्रथा पुरानी है. कोरोना से बचाव के सामान से लैस कृष्ण भगवान और उनकी झांकियां हमें सन्देश तो दे रही हैं. 

न्यू जर्सी में बाल कृष्ण, मनी जन्माष्टमी 

जन्माष्टमी की धूम विदेशों में भी देखने को मिल रही है. अमेरिका के न्यूजर्सी में तो कई नन्हे बाल गोपाल कृष्ण की भूमिका में नजर आए. उनमें सबसे सुंदर और सभी का ध्यान अपनी ओर आकर्षित करने वाले लड्डू गोपाल अमेरिका के न्यूजर्सी के किंशु रहे. किंशु के माता-पिता बनारस के रहने वाले हैं और वर्तमान में वह न्यूजर्सी में हैं.

9h6o3ig

अपनी मूल संस्कृत से जुड़े उनके माता-पिता ने अपने बेटे की कृष्ण जन्माष्टमी के मौके पर कृष्ण के बाल रूप में अलग-अलग लीलाएं करते हुए तस्वीरें लीं. गौरतलब है कि बनारस के दर्जा प्राप्त राज्यमंत्री दयाशंकर मिश्र दयालु के परिवार से जुड़े किंशु उनके भतीजे के बेटे हैं.

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

पेरिस मास्टर्स में नहीं खेलेंगे नोवाक जोकोविच, बताई अजीब वजह

बेलग्रेडविश्व के नंबर-1 टेनिस खिलाड़ी सर्बिया के नोवाक जोकोविच ने कहा है कि वह इस सीजन में पेरिस मास्टर्स में अपने खिताब का बचाव...

कुट्टू का आटा क्या होता है और किससे बनता है? जानें व्रत में इसे क्यों खाते हैं 

व्रत में सबसे ज्यादा कुट्टू का आटा खाया जाता है। इसके आटे से व्रत में खाने वाली पूड़ियां, पराठे, पकौड़े, चीला बनाया जाता है...

KKR vs RCB: केकेआर को झटका, रसल नहीं खेल रहे, ऐसी है दोनों टीमों की प्लेइंग-XI

अबु धाबीकोलकाता नाइट राइडर्स ने बुधवार को शेख जाएद स्टेडियम में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के साथ जारी आईपीएल के 13वें सीजन के 39वें मैच...

भारतीय टीम को ऑस्ट्रेलिया दौरे पर मिली बड़ी छूट, क्वारंटीन के दौरान कर सकती है प्रैक्टिस

सिडनीभारतीय टीम के अगले महीने शुरू होने वाले ऑस्ट्रेलिया दौरे पर सिडनी और कैनबरा सीमित ओवरों की सीरीज की मेजबानी की दौड़ में आगे...

Recent Comments