Home Sport यूएई में आईपीएल के लिए मिली भारत सरकार से मंजूरी, लीग चेयरमैन...

यूएई में आईपीएल के लिए मिली भारत सरकार से मंजूरी, लीग चेयरमैन बृजेश पटेल ने की पुष्टि

Edited By Tarun Vats | एजेंसियां | Updated:

अगले महीने यूएई में होगा IPLअगले महीने यूएई में होगा IPL
हाइलाइट्स

  • इस साल सितंबर से इंडियन प्रीमियर लीग का आयोजन संयुक्त अरब अमीरात में होगा
  • केंद्र सरकार ने दी लिखित तौर पर मंजूरी, लीग चेयरमैन बृजेश पटेल ने की पुष्टि
  • भारत में कोरोना वायरस महामारी के बढ़ते मामलों के कारण यूएई में टूर्नमेंट कराया जा रहा है
  • आईपीएल के 13वें एडिशन के लिए अधिकांश टीमें 20 अगस्त के बाद यूएई रवाना होंगी

नई दिल्ली

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड को इस साल इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) का आयोजन संयुक्त अरब अमीरात (IPL in UAE) में कराने के लिए केंद्र सरकार से औपचारिक मंजूरी मिल गई है। लीग के चेयरमैन बृजेश पटेल ने सोमवार को यह जानकारी दी।

आईपीएल का आयोजन अगले महीने यूएई में होना है। यह प्रतिष्ठित टी20 लीग 19 सितंबर से 10 नवंबर के बीच शारजाह, दुबई और अबुधाबी में खेली जाएगी। सरकार ने पिछले सप्ताह बीसीसीआई को सैद्धांतिक मंजूरी दे दी थी।

पढ़ें, IPL 2021 के लिए मेगा ऑक्शन नहीं करेगा BCCI

भारत में कोरोना वायरस महामारी के बढ़ते मामलों के कारण यूएई में टूर्नमेंट कराया जा रहा है। पटेल ने कहा, ‘हमें लिखित रूप से मंजूरी मिल गई है।’ उनसे पूछा गया था कि क्या गृह और विदेश मंत्रालय दोनों ने लिखित में मंजूरी दे दी है।

IPL का रोमांच 19 सितंबर से, 10 नवंबर को फाइनलIPL का रोमांच 19 सितंबर से, 10 नवंबर को फाइनल

भारत का कोई भी खेल संगठन जब घरेलू टूर्नमेंट विदेश में कराता है तो गृह, विदेश और खेल मंत्रालय से मंजूरी लेनी होती है। बोर्ड के एक शीर्ष अधिकारी ने कहा, ‘सरकार से मंजूरी मिलने के बाद हमने एमिरेट्स क्रिकेट बोर्ड का बता दिया था। अब हमें लिखित मंजूरी भी मिल गई है तो टीमों को सूचित किया जाएगा।’

अधिकांश टीमें 20 अगस्त के बाद रवाना होंगी। उन्हें रवानगी से पहले 24 घंटे के भीतर दो बार आरटी-पीसीआर टेस्ट (कोविड-19 टेस्ट) कराने होंगे। चेन्नै सुपर किंग्स टीम 22 अगस्त को रवाना होगी जिसका चेपॉक स्टेडियम पर एक छोटा कैंप लगाया जाएगा।

IPL स्पॉन्सरशिप की दौड़ में क्यों है 'पतंजलि'?IPL स्पॉन्सरशिप की दौड़ में क्यों है ‘पतंजलि’?

चीनी मोबाइल कंपनी वीवो से करार टूटने के बाद बीसीसीआई को प्रायोजन तलाशने में भी दिक्कत हो रही है। यह 440 करोड़ रुपये (सालाना) का करार था जो भारत और चीन के सैनिकों के बीच सीमा पर हुई हिंसक झड़प के कारण चीनी उत्पादों और कंपनियों के बहिष्कार की मांग के बीच इस साल के लिए रद्द कर दिया गया है। योगगुरु बाबा रामदेव की पतंजलि ने नया टाइटल स्पॉन्सर बनने में रूचि दिखाई है।

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

वैक्सीन में कितना अंतर हो

भारत में कोरोना वैक्सीन कोविशील्ड के दो डोज के बीच अंतर को बढ़ाकर 12 से 16 सप्ताह किए जाने के फैसले पर सवाल-जवाब का...

रजिस्ट्रेशन आसान हो, वैक्सीन के सुरक्षा घेरे में सब लाए जाएं

देश में 18 साल से ऊपर के सभी लोगों को टीकाकरण के दायरे में लाने की शुरुआत इस महीने की पहली तारीख से हुई,...

केंद्र ही खरीदे टीका

दिल्ली सरकार ने कोवैक्सीन की कमी की बात कहते हुए 18-44 साल आयुवर्ग के लिए चल रहे 100 टीकाकरण केंद्र बंद कर दिए हैं।...

गांवों में फैला कोरोना

जहां एक ओर बुरी तरह प्रभावित राज्यों और बड़े शहरों में कोरोना संक्रमण की स्थिति में हल्का सुधार दिखने से राहत महसूस की जा...

Recent Comments