Home News अंतिम दौर की लड़ाई, विधायकों के बीच सेनापति की तरह बोले CM...

अंतिम दौर की लड़ाई, विधायकों के बीच सेनापति की तरह बोले CM अशोक गहलोत – Ameta

राजस्थान : अंतिम दौर की लड़ाई,  विधायकों के बीच सेनापति की तरह बोले CM अशोक गहलोत

जैसलमेर में विधायकों दल की बैठक की संबोधित किया है CM अशोक गहलोत ने

नई दिल्ली :

राजस्थान में सरकार बचाने की कोशिश में जुटे मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की लड़ाई अब अंतिम पड़ाव की ओर पहुंच गई है. 14 अगस्त को विधानसभा सत्र बुलाया गया है जहां विश्वास मत की तैयारी है. लेकिन इससे पहले विधायकों को तोड़ने की आशंका भी जताई जा रही है. यह डर न सिर्फ कांग्रेस को बल्कि बीजेपी को भी सताने लगा है. यही वजह है कि उसके 6 विधायक गुजरात में देखे गए हैं. वहीं कांग्रेस ने अपने विधायकों को जैसलमेर भेज दिया है. इससे पहले उन्हें काफी दिनों तक जयपुर के एक होटल में ठहराया गया है. उधर बागी विधायकों के सामने भी शर्तें रखी गई हैं कि अगर वे मान लेते हैं तो उनको दोबारा शामिल करने पर विचार किया जा सकता है. इस पूरी कवायद के बीच रविवार को जैसलमेर में सीएम अशोक गहलोत ने विधायक दल की बैठ को संबोधित किया है.

यह भी पढ़ें

उनका अंदाज एक सेनापति की तरह था जो निर्णायक युद्ध की तरफ जाने की तैयार है. उन्होंने विधायकों को संबोधित करते हुए कहा कि सदन में सभी को एकता दिखानी है. हम सभी ‘लोकतंत्रिक योद्धा’ हैं. मुख्यमंत्री गहलोत ने आगे कहा, ‘हम इस लड़ाई को जीतने जा रहे हैं और साढ़े तीन साल बाद होने जा रहे विधानसभा चुनाव भी जीतेंगे. जिस तरह अभी तक आपने एकता दिखाई है उसी तरह सदन में एकता दिखाना है.’ गौरतलब है कि राजस्थान में कांग्रेस की सरकार सचिन पायलट की अगुवाई में 18 विधायकों बगावत का सामना कर रही है. जिसके बाद माना जा रहा है कि राज्य सरकार संकट में है. लेकिन सीएम अशोक गहलोत ने 114 अगस्त को विधानसभा सत्र बुला लिया है. माना जा रहा है कि इस दौरान वह विश्वास मत ला सकते हैं. 

इससे पहले गहलोत ने अपने सभी विधायकों से कहा है कि वह अपने-अपने क्षेत्र में जाकर जनता की कल्याण के लिए उठाए गए कदमों की लिस्ट लोगों को सौपें साथ ही ये भी बताएं कि इन पर आगे भी काम होगा. विधायक दल की बैठक में कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष गोविंद सिंह दोस्तारा, अजय माकन, रणदीप सिंह सुरजेवाला भी मौजूद थे. इस मौके पर कांग्रेस महासचिव ने कहा कि कांग्रेस का इतिहास तो आजादी से पहले से ही संघर्ष का रहा है. उन्होंने दूसरी पार्टियों के विधायकों का भी धन्यवाद दिया जो इस संकट में साथ खड़े हैं. (इनपुट पीटीआई से भी)

 

 

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

इस्राइल-फलस्तीन विवाद: रुके हिंसा का यह दौर

इस्राइल और फलस्तीन के बीच पिछले एक हफ्ते से जारी भीषण गोलाबारी से चिंतित वैश्विक समुदाय ने ठीक ही अपील की है कि सबसे...

वैक्सीन में कितना अंतर हो

भारत में कोरोना वैक्सीन कोविशील्ड के दो डोज के बीच अंतर को बढ़ाकर 12 से 16 सप्ताह किए जाने के फैसले पर सवाल-जवाब का...

रजिस्ट्रेशन आसान हो, वैक्सीन के सुरक्षा घेरे में सब लाए जाएं

देश में 18 साल से ऊपर के सभी लोगों को टीकाकरण के दायरे में लाने की शुरुआत इस महीने की पहली तारीख से हुई,...

केंद्र ही खरीदे टीका

दिल्ली सरकार ने कोवैक्सीन की कमी की बात कहते हुए 18-44 साल आयुवर्ग के लिए चल रहे 100 टीकाकरण केंद्र बंद कर दिए हैं।...

Recent Comments