Home Gadgets Janmashtami 2020: जन्माष्टमी पर कान्हा को भोग लगाने के लिए बनाएं मथुरा...

Janmashtami 2020: जन्माष्टमी पर कान्हा को भोग लगाने के लिए बनाएं मथुरा के पेड़े, नोट कर लें ये सीक्रेट Recipe

Janmashtami 2020: हिंदू धर्म मान्यताओं के अनुसार, भाद्रपद के कृष्ण पक्ष की अष्टमी तिथि को श्रीकृष्ण का जन्म हुआ था। इस साल जन्माष्टमी का त्योहार 11-12 अगस्त यानी दो दिन मनाया जाएगा। जन्माष्टमी भगवान विष्णु के आठवें अवतार भगवान कृष्ण के जन्म की खुशी में मनाई जाती है। भगवान कृष्ण को जन्माष्टमी (Janmashtami) पर पंजीरी (Panjiri) और पेड़े का भोग लगाया जाता है। कृष्ण भक्त इस दिन अपने आराध्य को पेड़े का भोग जरूर लगाते हैं। अगर आप सोच रहे हैं कि इस साल कोरोनावायरस की वजह से जन्माष्टमी के दिन आप अपने कान्हा को मथुरा के पेड़ों का भोग नहीं लगा पाएंगे तो आप गलत हैं। आइए जानते हैं घर पर ही रहकर आप कैसे बना सकती हैं मथुरा के स्पेशल पेड़े।   

आवश्यक सामग्री-

-खोया या मावा – 250 ग्राम
-चीनी पीसी हुई – 200 ग्राम
-घी – 2 या 3 टेबल स्पून
-छोटी इलायची – 4-5 (कुटी हुई)

मथुरा के पेड़े बनाने की विधि-

मथुरा के पेड़े बनाने के लिए सबसे पहले खोये को एक चम्मच की सहायता से मसल लें। अब एक कढ़ाई को गर्म करके इसमें खोया डालें और इसे आंच कम करके लगातार तब तक चलाते रहें जबतक यह हल्का भूरा ना हो जाए। जब यह गोल्डन ब्राउन होने लगे तो इसमें 2 चम्मच घी डालकर गोल्डन भूरा होने तक भूनते रहें।

अगर खोया सूख रहा है तो इसमें 2 बड़े चम्मच मलाई वाला दूध डालकर इसे तबतक चलाएं जब तक दूध सूख न जाए। अब आंच बंद कर दें लेकिन खोये को लगातार थोड़ी देर तक चलाते रहें। ऐसा इसलिए क्योंकि कढ़ाई गर्म होने पर खोया चिपक सकता है। अब इसमें आधा चीनी का बूरा मिलाकर लपेटकर अच्छे से मिला लें। अब आप इस मिश्रण से पेडे बना सकती हैं।

पेड़ा बनाने के लिए इस मिक्सचर को थोड़ा सा हाथ में लेकर गोल आकार दें, अब इसे हथेली में लेकर हल्का सा दबाएं ताकि ये पेड़े जैसा आकार ले ले। अब इस पेड़े को इलायची पाउडर और बुरे लगी प्लेट पर रखते जाएं। आपके मथुरा के स्पेशल पेड़े बनकर तैयार हैं। जन्माष्टमी के दिन भगवान श्री कृष्ण को इन पेड़ों का भोग लगाकर उनका आशीर्वाद प्राप्त करें। 


Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

रजिस्ट्रेशन आसान हो, वैक्सीन के सुरक्षा घेरे में सब लाए जाएं

देश में 18 साल से ऊपर के सभी लोगों को टीकाकरण के दायरे में लाने की शुरुआत इस महीने की पहली तारीख से हुई,...

केंद्र ही खरीदे टीका

दिल्ली सरकार ने कोवैक्सीन की कमी की बात कहते हुए 18-44 साल आयुवर्ग के लिए चल रहे 100 टीकाकरण केंद्र बंद कर दिए हैं।...

गांवों में फैला कोरोना

जहां एक ओर बुरी तरह प्रभावित राज्यों और बड़े शहरों में कोरोना संक्रमण की स्थिति में हल्का सुधार दिखने से राहत महसूस की जा...

तालमेल से बनेगी बात

केंद्र सरकार ने सोमवार को में वैक्सीन पॉलिसी पर अपने रुख का बचाव करते हुए कहा कि महामारी से कैसे निपटना है, यह...

Recent Comments