Home Sport शोएब अख्तर का खुलासा- बीमर फेंकने के बाद हुआ था गलती का...

शोएब अख्तर का खुलासा- बीमर फेंकने के बाद हुआ था गलती का अहसास, मांगी थी धोनी से माफी

Edited By Nityanand Pathak | नवभारतटाइम्स.कॉम | Updated:

एमएस धोनी और शोएब अख्तरएमएस धोनी और शोएब अख्तर
हाइलाइट्स

  • पाकिस्तानी टीम के पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर ने खुलासा किया है कि उन्होंने धोनी से एक बार माफी मांगी थी
  • यह हुआ था 2006 में फैसलाबाद टेस्ट के दौरान, उस समय शोएब ने धोनी को बीमर मारा था
  • शोएब ने अब खुलासा किया है कि उस वक्त मुझे गलती का अहसास हुआ और मैंने धोनी से माफी मांग ली
  • धोनी ने अपने टेस्ट करियर का पहला शतक पाकिस्तान के खिलाफ इसी मैच में लगाया था

नई दिल्ली

पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर (Shoaib Akhtar apologised to MS Dhoni) ने कहा है कि उन्हें 2006 में फैसलाबाद में हुए टेस्ट मैच में महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) को बीमर नहीं फेंकनी चाहिए थी। अख्तर ने कहा कि उन्होंने ऐसा पहली बार जानबूझकर किया था और इसके बाद उन्होंने धोनी से माफी भी मांग ली थी। इस मैच में धोनी प्रचंड फॉर्म में थे और उन्होंने पहली पारी में महज 153 गेंदों में 19 चौके और 4 छक्के की मदद से 148 रनों की धांसू पारी खेली थी।

अख्तर ने आकाश चोपड़ा के यूट्यूब चैनल आकाशवाणी पर कहा, ‘मुझे लगता है कि मैंने फैसलाबाद में 8-9 ओवरों का स्पेल फेंका था। मैंने वो स्पेल काफी जल्दी किया था और धोनी ने शतक जमाया था। मैंने उन्हें जानबूझकर बीमर फेंकी है और इसके बाद उनसे माफी मांगी।’

पूर्व गेंदबाज ने कहा, ‘उस दिन मैंने पहली बार जानबूझकर बीमर फेंकी। मुझे ऐसा नहीं करना चाहिए था। मैं इस पर बाद में काफी पछताया। वह शानदार खेल रहे थे और विकेट काफी धीमी थी। मैं चाहे कितनी भी तेज फेंक लूं वो मारे जा रहे थे। मैं परेशान हो गया था।’ धोनी का फैसलाबाद में बनाया गया शतक टेस्ट में पहला शतक था।

इस पारी में भारत ने 603 रनों का विशाल स्कोर खड़ा किया था। भारत के लिए कप्तान राहुल द्रविड़ ने 103, वीवीएस लक्ष्मण और इरफान पठान ने 90-90 रनों की अहम पारी खेली थी। यह मैच ड्रॉ रहा था।

खुलासा: एमएस धोनी को क्यों कहा जाता है 'थाला'खुलासा: एमएस धोनी को क्यों कहा जाता है ‘थाला’

(आईएएनएस के इनपुट के साथ)

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

रजिस्ट्रेशन आसान हो, वैक्सीन के सुरक्षा घेरे में सब लाए जाएं

देश में 18 साल से ऊपर के सभी लोगों को टीकाकरण के दायरे में लाने की शुरुआत इस महीने की पहली तारीख से हुई,...

केंद्र ही खरीदे टीका

दिल्ली सरकार ने कोवैक्सीन की कमी की बात कहते हुए 18-44 साल आयुवर्ग के लिए चल रहे 100 टीकाकरण केंद्र बंद कर दिए हैं।...

गांवों में फैला कोरोना

जहां एक ओर बुरी तरह प्रभावित राज्यों और बड़े शहरों में कोरोना संक्रमण की स्थिति में हल्का सुधार दिखने से राहत महसूस की जा...

तालमेल से बनेगी बात

केंद्र सरकार ने सोमवार को में वैक्सीन पॉलिसी पर अपने रुख का बचाव करते हुए कहा कि महामारी से कैसे निपटना है, यह...

Recent Comments