Home Gadgets Chingari ऐप का जलवा, Atma-Nirbhar App चैलेंज में सबको छोड़ा पीछे

Chingari ऐप का जलवा, Atma-Nirbhar App चैलेंज में सबको छोड़ा पीछे

चिंगारीचिंगारी

नई दिल्ली

देसी शॉर्ट विडियो मेकिंग ऐप Chingari को भारत सरकार के #AtmaNirbharBharatApp चैलेंज में बेस्ट विडियो मेकिंग ऐप का खिताब मिला है। सरकार द्वारा आयोजित किया गया यह चैलेंज अपने आप में बिल्कुल नया था। चिंगारी टीम के लिए इस प्रतियोगिती को जीतना एक बड़ी उपलब्धि है। नंबर 1 बनने के लिए चिंगारी ने दूसरे कई देसी पॉप्युलर शॉर्ट विडियो मेकिंग ऐप को पीछ छोड़ा है।

चिंगारी को मिले बंपर वोट

चिंगारी को सोशल मीडिया कैटिगरी में बेस्ट ऐप के लिए बंपर वोट मिले और इसने अपने प्रतिद्वंदी ऐप्स को बड़े अंतर से हराया। मिनिस्ट्री ऑफ इन्फर्मेशन ऐंड टेक्नॉलजी द्वारा आयोजित किए गए इस ऐप इनोवेशन चैलेंज का मकसद उन देसी ऐप्स की पहचान करना था, जिसे यूजर इस्तेमाल कर रहे हैं और जिनमें वर्ल्ड क्लास ऐप बनने का दम है।

NBT

चिंगारी बना नंबर 1 ऐप

टॉप तीन ऐप में शामिल था चिंगारी

सोशल मीडिया कैटिगरी में बेस्ट ऐप चुने जाने से पहले यह इस कैटिगरी के टॉप तीन ऐप्स में शामिल था। इस कॉम्पिटिशन में चिंगारी प्रतिद्वंदी ऐप मित्रों और शेयरचैट मेन राउंड के लिए क्वालिफाई नहीं कर पाए। यह कॉम्पिटिशन को जीतना इसलिए भी मुश्किल था क्योंकि इसमें हजारों ऐप्स में भाग लिया था।

HTC का नया स्मार्टफोन लॉन्च, जानें क्या है खास

कंपनी ने जाहिर कू खुशी

चिंगारी ऐप के को-फाउंडर सुमित घोष ने कहा कि जो फीचर हम ऑफर करते हैं उसे खासतौर से युवा भारत के लिए तैयार किया गया है और हम अपने प्लैटफॉर्म के जरिए भारतीय यूजर्स की पसंद का ख्याल रखना जारी रखेंगे। वहीं, चिंगारी के ही को-फाउंडर बिस्वात्मा नायक ने भारत सरकार और यूजर्स से मिले इस प्यार के लिए उनका धन्यवाद किया। नायक ने आगे कहा कि इस उपलब्धि से उन्हें और उनकी टीम को बेस्ट यूजर एक्सपीरियंस देने के लिए कड़ी मेहनत करने की एक नई ऊर्जा मिली है।

अगली स्टोरी

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

इस्राइल-फलस्तीन विवाद: रुके हिंसा का यह दौर

इस्राइल और फलस्तीन के बीच पिछले एक हफ्ते से जारी भीषण गोलाबारी से चिंतित वैश्विक समुदाय ने ठीक ही अपील की है कि सबसे...

वैक्सीन में कितना अंतर हो

भारत में कोरोना वैक्सीन कोविशील्ड के दो डोज के बीच अंतर को बढ़ाकर 12 से 16 सप्ताह किए जाने के फैसले पर सवाल-जवाब का...

रजिस्ट्रेशन आसान हो, वैक्सीन के सुरक्षा घेरे में सब लाए जाएं

देश में 18 साल से ऊपर के सभी लोगों को टीकाकरण के दायरे में लाने की शुरुआत इस महीने की पहली तारीख से हुई,...

केंद्र ही खरीदे टीका

दिल्ली सरकार ने कोवैक्सीन की कमी की बात कहते हुए 18-44 साल आयुवर्ग के लिए चल रहे 100 टीकाकरण केंद्र बंद कर दिए हैं।...

Recent Comments