Home News सुशांत राजपूत केस: मुंबई से वापस पटना लौटी बिहार पुलिस की टीम,...

सुशांत राजपूत केस: मुंबई से वापस पटना लौटी बिहार पुलिस की टीम, IPS तिवारी अभी भी क्‍वॉरंटीन

की जांच करने मुंबई पहुंची टीम के सदस्य वापस पटना लौट आए हैं। आईपीएस विनय तिवारी अभी वहीं हैं। उन्हें बीएमसी ने क्वॉरंटीन किया है। सुशांत के पिता केके सिंह ने रिया चक्रवर्ती के खिलाफ पटना में एफआईआर दर्ज करवाई थी जिसके बाद पुलिस मामले की तहकीकात करने मुंबई पहुंची थी। केस को सीबीआई को हैंडओवर करने की मंजूरी केंद्र से मिल चुकी है। गुरुवार को बिहार पुलिस के चारों सदस्य वापस पटना लौट आए।

क्वॉरंटीन हैं विनय तिवारी
सुशांत सिंह राजपूत केस में रिया चक्रवर्ती के खिलाफ मुकदमा दर्ज होने के बाद बिहार पुलिस की टीम मुंबई पहुंची थी। टीम को मुंबई पुलिस का सहयोग न मिलने की कई खबरें आ चुकी हैं। बिहार पुलिस के सदस्यों ने सुशांत की दोस्त अंकिता लोखंडे का बयान दर्ज किया है। बिहार से जांच को लीड करने मुंबई पहुंचे आईपीएस अध‍िकारी विनय तिवारी को मुंबई में जबरन क्‍वॉरंटीन कर दिया गया है। अब जब तिवारी क्‍वॉरंटीन स्‍क‍िप कर वापस बिहार लौटना चाहते हैं, तब भी बीएमसी ने इसमें अड़चन डाल दी है। विनय तिवारी ने इस पूरे मामले में बीएमसी के रवैये को अनुचित और दुर्भाग्‍यपूर्ण बताया है।

विनय तिवारी ने कहा- फंसे हुए हैं
इस पूरे मामले में हमारे सहयोगी ‘टाइम्‍स नाऊ’ से बात करते हुए विनय तिवारी ने कहा कि बीएमसी का तरीका अनुचित है, दुर्भाग्‍य पूर्ण है। यह उनकी मामले की जांच करने के उनके कानूनी अध‍िकार से वंचित करने का प्रयास है। विनय तिवारी ने कहा कि वह 2 अगस्‍त से ही फंसे हुए हैं और चाहकर भी सुशांत केस की जांच करने के लिए बाहर नहीं निकल सकते।

BMC के ख‍िलाफ कोर्ट जाएगी बिहार सरकार
आईपीएस विनय तिवारी ने कहा कि वह लगातार बिहार सरकार से संपर्क में हैं और तमाम दूसरे विकल्‍प तलाश रहे हैं। तिवारी कहते हैं कि जो कुछ भी हो रहा है, उससे मामले की जांच प्रभावित हुई है। बिहार सरकार ने भी बीएमसी के इस रवैये पर सख्‍ती बरती है। राज्‍य सरकार ने फैसला किया है कि वह बीएमसी के इस निर्णय के ख‍िलाफ कोर्ट जाने की तैयारी कर रही है।

बीएमसी ने कहा- चाहें तो जूम पर कर लें जांच
बता दें कि बीएमसी तरफ से वेलरासु ने अपने जवाब में यह भी कहा कि बिहार में कोरोना संक्रमण के हालात को देखते हुए अध‍िकारी को शहर छोड़ने की अनुमति नहीं मिल सकती। तिवारी यदि चाहें तो ऑनलाइन प्‍लेटफॉर्म जूम के जरिए काम जारी रख सकते हैं।

सोमवार को पहुंचे, उसी शाम कर दिया क्‍वॉरंटीन
बता दें कि आईपीएस अध‍िकारी विनय तिवारी सोमवार को पटना से मुंबई आए थे। वह मुंबई में सुशांत मामले की जांच करने आई बिहार पुलिस की टीम को लीड करने वाले थे। लेकिन इससे पहले ही तिवारी कार्रवाई आगे बढ़ाते, सोमवार शाम को ही उन्‍हें क्‍वॉरंटीन कर दिया गया।

नहीं मिली थी सुशांत की ऑटोप्सी रिपोर्ट
बिहार पुलिस के बाकी सदस्यों को क्वॉरंटीन से बचने के लिए छिपना पड़ा था। पहले उनकी मुंबई पहुंचने के बाद उनकी ऑटो और लग्जरी गाड़ियों में कई तस्वीरें सोशल मीडिया पर नजर आई थीं। वे रिया चक्रवर्ती का बयान नहीं ले सके थे क्योंकि वह लापता हैं। बिहार पुलिस टीम को कूपर हॉस्पिटल से सुशांत की ऑटोप्सी रिपोर्ट भी नहीं दी गई थी। इसकी वजह अस्पताल के ऐडमिन ने मुंबई पुलिस प्रोटोकॉल बताई थी।

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

भारत-पाकिस्तानः LOC पर शांति की उम्मीद

भारत और पाकिस्तान की सेनाओं की ओर से संयुक्त घोषणापत्र के रूप में गुरुवार को आई यह खबर एकबारगी सबको चौंका गई कि दोनों...

टीकाकरणः नए हालात, नई रणनीति

केंद्र सरकार ने साफ कर दिया है कि कोरोना के टीकाकरण का दूसरा चरण सोमवार एक मार्च से ही शुरू हो जाएगा और इसके...

दिशा रविः विवेकशीलता के पक्ष में

बहुचर्चित टूलकिट मामले में गिरफ्तार युवा पर्यावरण कार्यकर्ता को आखिर मंगलवार को दिल्ली की एक अदालत से जमानत मिल गई। पहले दिन से...

जंग बन गए हैं चुनाव

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने असम में एक रैली को संबोधित करते हुए संकेत दिया कि मार्च के पहले हफ्ते में चुनाव आयोग वहां चुनाव...

Recent Comments