Home News तीसरी रैंक हासिल करने वालीं प्रतिभा वर्मा ने कहा, पुराने क्वेश्चन पेपर...

तीसरी रैंक हासिल करने वालीं प्रतिभा वर्मा ने कहा, पुराने क्वेश्चन पेपर मददगार – Ameta

UPSC Civil Services Exam Result: तीसरी रैंक हासिल करने वालीं प्रतिभा वर्मा ने कहा, पुराने क्वेश्चन पेपर मददगार

उत्तर प्रदेश के सुलतानपुर की प्रतिभा वर्मा ने यूपीएससी सिविल सर्विसेज परीक्षा में तीसरा स्थान हासिल किया है.

नई दिल्ली:

UPSC Civil Services Result 2019: उत्तर प्रदेश के सुलतानपुर की प्रतिभा वर्मा (Pratibha Verma) ने यूपीएससी सिविल सर्विसेज परीक्षा (UPSC CSE 2019) में तीसरा स्थान हासिल किया है. इस परीक्षा में सफल महिला उम्मीदवारों की लिस्ट में वे पहले स्थान पर हैं. प्रतिभा को यह सफलता तीसरे प्रयास में हासिल हुई है. प्रतिभा का कहना है कि परीक्षार्थियों को ऑप्शनल सब्जेक्ट चुनते समय अपने ग्रेजुएशन के विषयों का ध्यान रखना चाहिए और पिछले सालों के प्रश्न पत्रों को हल करना चाहिए.   

यह भी पढ़ें

प्रतिभा वर्मा ने NDTV से खास बातचीत करते हुए परीक्षा की तैयारी की अपनी स्ट्रैटजी छात्रों के साथ साझा की. IIT दिल्ली से B tech कर चुकीं प्रतिभा ने बताया कि CSE एक्ज़ाम की तैयारी करते समय ऑप्शनल विषयों के चुनाव में किन बातों का मुख्य तौर पर ध्यान रखना चाहिए. चूंकि प्रतिभा B Tech हैं इसलिए उन्होंने ऑप्शनल विषय के तौर पर फ़िज़िक्स का चुनाव किया. 

उन्होंने बताया कि छात्रों को ऑप्शनल सब्जेक्ट का चुनाव करते समय अपने ग्रेजुएशन के सब्जेक्टों को विशेष तौर पर ध्यान में रखना चाहिए. प्रतिभा ने छात्रों को यह सुझाव भी दिया कि पढ़ने के बाद बीते साल के प्रश्न पत्रों को हल करने से एक्ज़ाम की तैयारी में काफ़ी मदद मिलती है.  

UPSC Result 2019 Toppers: प्रदीप सिंह बने सिविल सेवा परीक्षा 2019 के टॉपर, यहां देखें सफल उम्मीदवारों की पूरी लिस्ट

प्रतिभा ने पर्सनालिटी टेस्ट और इंटरव्यू की तैयारियों  को लेकर रिवीज़न के महत्व के बारे में भी बताया. प्रतिभा साल 2016 से सिविल सर्विसेज की तैयारी में जुटी हुई थीं. उन्होंने इस बार तीसरी रैंक हासिल करके सफ़लता पाई है.

avimruto

सिविल सर्विसेज परीक्षा में छठी रैंक हासिल करने वालीं विशाखा यादव.

विशाखा यादव ने सिविल सर्विसेज परीक्षा में छठी रैंक हासिल की. विशाखा के पिता राजकुमार यादव दिल्ली पुलिस में एएसआई हैं. विशाखा की उल्लेखनीय सफलता पर द्वारका जिले के डीसीपी एंटो अल्फोंस ने अपने दफ्तर में बुलाकर सम्मानित किया और इस उपलब्धि के लिए बधाई दी. एएसआई राजकुमार डीसीपी एंटो अल्फोंस के दफ्तर में कार्यरत हैं. 

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

मुंशी प्रेमचंद की पत्नी शिवरानी देवी की वे कहानियां जिनके बारे में बहुत कम लोग जानते हैं!

हिन्दी के अमर कथाकार मुंशी प्रेमचंद की पहली हिन्दी कहानी 'सौत' 1915 में छपी थी  और इसी शीर्षक से उनकी पत्नी शिवरानी देवी ने...

सर्दियों में किसी आयुर्वेदिक औषधि से कम नहीं है कश्मीरी कहवा, यह है बनाने की तरीका

कश्मीरी कहवा स्वाद में ही नहीं सेहत के लिए भी बहुत अच्छी होती है। इसे ग्रीन टी की तरह ही गुणकारी माना जाता है।...

इन 6 चीजों के सेवन से आंखों की रोशनी नहीं होती कम, लैपटॉप, मोबाइल का इस्तेमाल करने वाले लोग जरूर खाएं

आजकल समय से पहले लोगों के आखों की रोशनी कमजोर होने लगी है, क्योंकि बदलती लाइफस्टाइल के साथ ही हम सभी को कुछ घंटे...

शादी-पार्टी में ठंड से बचने के साथ कैसे दिखें स्टाइलिश? इन टिप्स से सर्दी में भी पहन सकते हैं अपनी फेवरेट ड्रेस 

आमतौर पर सर्दियों के कपड़ों को लेकर लोगों के मन में आम धारणा बनी हुई है कि ठंड से बचाने वाले कपड़े स्टाइलिश नहीं...

Recent Comments