Home News सचिन पायलट की दोबारा वापसी पर कांग्रेस ने क्या रखी है शर्त?

सचिन पायलट की दोबारा वापसी पर कांग्रेस ने क्या रखी है शर्त?

सचिन पायलट की दोबारा वापसी पर कांग्रेस ने क्या रखी है शर्त?

सचिन पायलट और 18 विधायकों ने बगावत कर रखी है.

नई दिल्ली :

कुछ दिन पहले सीएम अशोक गहलोत ने कांग्रेस के बागियों से कहा था कि अगर वे आलाकमान से माफी मांग लें तो वह उनको दोबारा शामिल कर लेंगे. वहीं रविवार को कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा है कि सचिन पायलट को अपनी स्थिति साफ करें और बातचीत करें. कांग्रेस की ओर से यह दावा किया गया है कि राजस्थान में गहलोत की सरकार को कोई संकट नहीं है और 14 अगस्त को होने वाले विधानसभा सत्र में बहुमत सिद्ध कर देगी.  कांग्रेस प्रवक्ता ने रणदीप सुरजेवाला ने मीडिया से बातचीत में राजस्थान के संकट पर कहा, ‘सचिन पायलट को बातचीत करने जरूर आना चाहिए. वो पहले अपनी स्थिति साफ करें तभी उनकी वापसी कोई बातचीत संभव हो सकती है’. 

यह भी पढ़ें

वहीं जब सुरजेवाला से पूछा गया कि सचिन पायलट के खिलाफ कठोर शब्दों का इस्तेमाल कर चुके अशोक गहलोत क्या दोबारा बागियों को शामिल करने के लिए तैयार हो जाएंगे तो उनका कहना था कि सरकार गिराने की साजिश के दौरान भी ‘भावनाओं को ठेस’ पहुंचाने वाली बाते कही गई हैं. सुरजेवाला ने कहा, ‘अशोक गहलोत जी ने बहुत ही जिम्मेदार तरीके से काम किया है. उन्होने कहा, ‘ बीजेपी के साथ मिलकर उनकी सरकार गिराने की साजिश के दौरान उनकी भावनाओं को जो ठेस पहुंची है उस दौरान उनकी की ओर से दिए गए बयानों की आलोचना को विराम देना चाहिए. 

जब कांग्रेस नेता से पूछा गया कि राजस्थान में कांग्रेस के साथ कितने विधायक हैं तो उनका जवाब था कि उनके पास 102 विधायत हैं. हालांकि इससे पहले सुरजेवाला 109 विधायकों के समर्थन की बात कह चुके हैं. आपको बता दें कि शनिवार के जैसलमेर जहां कांग्रेस के विधायकों को एक होटल में रखा गया है, वहां मीडिया से बातचीत में सीएम अशोक गहलोत ने कहा था कि उनको बागियों से कोई समस्या नहीं है अगर वे पार्टी आलाकमान से माफी मांग लेते हैं. गहलोत ने कहा कि पार्टी आलकमान जो भी कहेगा वो उसे मानेंगे. 

आपको बता दें कि सचिन पायलट और उनके साथ 18 विधायकों ने बगावत कर दी है इसके बाद से राजस्थान में कांग्रेस सरकार संकट में आ गई है. हालांकि सचिन पायलट ने साफ कहा है कि वह बीजेपी में नहीं शामिल हो रहे हैं. इस बीच कांग्रेस की ओर से कई बार उनको संदेश भेजा गया है लेकिन उन्होंने अभी तक पत्ते नहीं खोले हैं. 

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

घास-फूस समझकर न फेंके मूली के पत्ते, जानें किन गुणों से हैं भरपूर

आमतौर पर मूली के पत्तों को कई लोग फेंक देते हैं लेकिन आपको बता दें कि मूली के पत्तों में मूली से भी ज्यादा...

प्रेग्नेंसी के दौरान पहनें स्टाइलिश आउटफिट, अनुष्का शर्मा और करीना कपूर से लें मैटरनिटी फैशन इंस्पिरेशन

जब भी हम प्रेग्नेंसी के दौरान पहने जाने वाले कपड़ो की बात करते हैं तो हमारे जेहन में ढीले-ढाले कपडे ही आते हैं।...

महिलाओं के लिए वरदान से कम नहीं है सूरजमुखी के बीज, रोजाना सेवन से दूर होती हैं ये 5 बड़ी समस्याएं

Sunflower Seeds Benefits: आज के स्ट्रेस भरे माहौल में खान-पान में गड़बड़ी और सेहत के प्रति लापरवाही बरतने की वजह से जाने अनजाने...

होम आइसोलेशन में ठीक हो सकते 94 फीसदी संक्रमित मरीज, अध्ययन ने जगायी उम्मीद

बेहतर देखभाल मिले तो होम आइसोलेशन में 94 फीसदी संक्रमित मरीज ठीक हो सकते हैं। अमेरिका के पेंसिल्वेनिया स्कूल ऑफ नर्सिंग यूनिवर्सिटी के एक...

Recent Comments