Home Sport शिविर को लेकर उत्सुक है दिल्ली कैपिटल्स, अंतिम फैसला आईपीएल गर्वनिंग मीटिंग...

शिविर को लेकर उत्सुक है दिल्ली कैपिटल्स, अंतिम फैसला आईपीएल गर्वनिंग मीटिंग के बाद

Edited By Bharat Malhotra | आईएएनएस | Updated:

NBT

नई दिल्ली

बीसीसीआई (BCCI) 19 सितंबर से आठ नवंबर के बीच आईपीएल (IPL) के 13वें सीजन को कराना चाहती है वहीं दिल्ली कैपिटल्स (Delhi Capitals) राष्ट्रीय राजधानी में भारतीय खिलाड़ियों का एक शिविर लगाने पर विचार कर रही है। इस पर हालांकि अंतिम फैसला रविवार को होने वाली आईपीएल गर्वनिंग काउंसिल (IPL Governing Council) की बैठक के बाद लिया जाएगा।

दिल्ली कैपिटल्स के एक अधिकारी ने कहा कि यह इसलिए है ताकि खिलाड़ी एक साथ मिल सकें और मिलकर लय में आने में एक दूसरे की मदद कर सकें वो भी सोशल डिस्टेंसिंग के नियम का पालन करते हुए।

अधिकारी ने कहा, ‘बीसीसीआई ने हमें तारीखों के बारे में बता दिया है लेकिन हम गर्वनिंग काउंसिल की बैठक से निकलने वाली कुछ और जानकारी का इंतजार कर रहे हैं। एक बार यह हो जाए, अंतिम फैसला लिया जाएगा। अभी तो हम 15 अगस्त से कैम्प के बारे में सोच रहे हैं, लेकिन बैठक के बाद इसमें बदलाव हो सकता है। एक बार मालिकों को बीसीसीआई से निर्देश मिल जाएंगे तो हम तैयारी शुरू कर देंगे।’

अधिकारी से जब पूछा गया कि क्या बैठक में लिए जाने वाले फैसलों का रणनीति पर असर पड़ सकता है तो उन्होंने कहा, ‘बैठक में इस संबंध में कई तरह की चीजें स्पष्ट हो जाएंगी कि यूएई में किस तरह से व्यवस्था होगी। इसके बाद हम जल्दी शहर में कैम्प लगाने के बारे में सोच सकते हैं या फिर यहां इकट्ठा होकर जल्दी यूएई जाने के बारे में सोच सकते हैं। एक चीज साफ है कि विदेशी खिलाड़ी सीधे यूएई आएंगे।’

उन्होंने कहा, ‘हमें इस बारे में स्पष्टीकरण चाहिए कि बबल किस तरह से काम करेगा, बीसीसीआई ने किस तरह से रोडमैप बनाया है और हमारे द्वारा बनाए गए ब्लूप्रिंट को किस तरह से इसमें शामिल किया जाएगा। लेकिन हां, जैसी अभी स्थिति है, उसे देखते हुए हम यूएई जाने से पहले छोटे कैम्प पर काम कर रहे हैं।’

उन्होंने कहा, ‘‘कई भारतीय क्रिकेटर अपने फ्लैट्स में बंद हैं और विचार यह है कि धीरे-धीरे उन्हें लय में लाया जाए। यह लोग पेशेवर हैं इसलिए घर में लंबे समय तक रहने के बाद यह मानसिक पहलू की बात ज्यादा हो जाती है। साथ ही आपकी जगह पर कैम्प करने से मदद मिलती है।’

कैम्प की जगह के बारे में पूछा गया तो अधिकारी ने कहा कि पहले इसे कर्नाटक के बेलारी जिले में स्थित जेएसडब्ल्यू स्पोर्टस सेंटर में लगाए जाने पर विचार चल रहा था लेकिन महामारी के कारण इसे रद्द कर दिया गया। अधिकारी ने कहा, ‘जेएसडब्ल्यू स्पोर्टस सेंटर में जो जिम है वो देश की सर्वश्रेष्ठ जिमों में से एक है और दिल्ली कैपिटल्स के कुछ खिलाड़ियों ने इसे पहले उपयोग में भी लिया है। हम पहले वहां कैम्प के बारे में सोच रहे थे लेकिन देश का दक्षिण इलाका बुरी तरह कोरोनावायरस की जद में होने के कारण इसे रद्द करना पड़ा।’

इस संबंध में जब दिल्ली एवं जिला क्रिकेट संघ (डीडीसीए) के अधिकारियों से संपर्क किया गया तो उन्होंने कहा कि फ्रेंचाइजी की तरफ से कोई संदेश नहीं आया है, लेकिन संघ खिलाड़ियों की मेजबानी के लिए पूरी तरह से तैयार है। डीडीसीए अधिकारी ने कहा, ‘हमें दिल्ली कैपिटल्स से अभी तक कोई संदेश नहीं मिला है लेकिन कोटला में उनका स्वागत है। यह उनका घरेलू मैदान है और वो जब चाहें तब यहां आ सकते हैं।’

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

अफगानिस्तान से पैकअप

बाइडेन प्रशासन की ताजा घोषणा के अनुसार अमेरिकी फौज इस साल 11 सितंबर यानी ट्विन टावर आतंकी हमले की बीसवीं बरसी तक अफगानिस्तान से...

अब जाकर दिखी तेजी

रेकॉर्ड संख्या में आ रहे कोरोना के नए मामलों के बीच देश के कई हिस्सों में टीकों की तंगी की शिकायतें आने लगी हैं।...

मां, बहन, बेटी से आगे

सिंगल मदर से जुड़े एक हालिया फैसले में ने जो महत्वपूर्ण टिप्पणियां दी हैं, वे न केवल हमारी सरकारों को दिशा दिखाने वाली...

असम में नया क्या हुआ?

असम विधानसभा चुनाव का नतीजा 2 मई को आएगा। वहां पार्टियां अपने उम्मीदवारों की हिफाजत को लेकर अभी से चौकन्ना हो गई हैं। विपक्षी...

Recent Comments