Home Sport इंग्लैंड के खिलाड़ियों को आईपीएल 2019 में खेलने की मंजूरी देना विश्व...

इंग्लैंड के खिलाड़ियों को आईपीएल 2019 में खेलने की मंजूरी देना विश्व कप प्लान का हिस्सा था: मोर्गन

NBT

चेन्नै

इंग्लैंड के सीमित ओवरों के कप्तान इयोन मोर्गन (Eoin Morgan) ने खुलासा किया है कि टीम के उनके साथियों का इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) 2019 में खेलना सोची समझी योजना का हिस्सा था और इसने उनकी टीम की विश्व कप (England Won the World Cup) में पहली खिताबी जीत में अहम भूमिका निभाई।

मोर्गन ने कहा कि उन्होंने इंग्लैंड एवं वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ECB) की क्रिकेट समिति के अध्यक्ष ऐंड्रू स्ट्रॉस (Andrew Strauss) से यह फैसला करने की गुजारिश की थी क्योंकि उनका मानना था कि वैश्विक प्रतियोगिता में होने वाले दबाव की बराबरी सिर्फ आईपीएल (IPL) में की जा सकती है।

वर्ल्ड कप फाइनल में शानदार जीत के बाद बोले इंग्लैंड के कप्तानवर्ल्ड कप फाइनल में शानदार जीत के बाद बोले इंग्लैंड के कप्तान

मोर्गन ने ‘क्रिकबज इन कंवर्सेशन’ पर हर्षा भोगले (Harsha Bhogle) को कहा, ‘आईपीएल में खेलना स्ट्रॉस की योजना का हिस्सा था। मैंने उनसे यह फैसला करने का आग्रह किया था क्योंकि अंतरराष्ट्रीय द्विपक्षीय सीरीज में चैंपियन्स ट्रोफी या विश्व कप के दबाव को दोहराना मुश्किल है।’

उन्होंने कहा, ‘‘उन्होंने मेरे से पूछा कि इसमें अलग क्या है। एक तो आप विदेशी खिलाड़ी के रूप में खेलते हो तो आप से काफी अपेक्षाएं होती हैं। अगर आप आईपीएल में खेलते हैं तो वहां अलग तरह का दबाव और अलग तरह की उम्मीदें होती हैं। कभी-कभी आप इससे बच नहीं सकते और आपको इससे निपटने का तरीका ढूंढना होता है।’

इंग्लैंड ने पिछले साल घरेलू सरजमीं पर न्यूजीलैंड को हराकर अपना पहला विश्व कप खिताब जीता था। मोर्गन ने कहा कि आईपीएल खिलाड़ियों को उनकी सहज स्थिति से बाहर निकलकर प्रदर्शन करने में मदद करता है।

खेल और देश-दुनिया की हर खबर अब Telegram पर भी। हमसे जुड़ने के लिए यहां क्‍ल‍िक करें और पाते रहें हर जरूरी अपडेट।

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

ब्रेन ड्रेन को रोकना होगा

टाइम्स ऑफ इंडिया ने 17 जून के अंक में 'रेजिडेंट इंडियंस' शीर्षक से संपादकीय में लिखा है कि भारत से इमिग्रेशन भले बढ़ रहा...

टीके पर नासमझी

सरकार ने अपनी तरफ से यह स्पष्टीकरण देकर अच्छा किया है कि की कोवैक्सीन में नवजात बछड़ों का सीरम नहीं होता। सोशल मीडिया...

विरोध और आतंकवाद का फर्क

हाल के कुछ अहम फैसलों पर नजर डालें तो ऐसा लगता है जैसे अदालतें लोकतांत्रिक मूल्यों की पुनर्प्रतिष्ठा में लगी हुई हैं। राजद्रोह से...

महंगाई ने बढ़ाई मुसीबत

पेट्रोलियम गुड्स, कमॉडिटी और लो बेस इफेक्ट के कारण मई में थोक महंगाई दर 12.94 फीसदी और खुदरा महंगाई दर 6.30 फीसदी तक चली...

Recent Comments