Home News सुशांत सिंह राजपूत केस में अब रोज बदल रही है पूछताछ की...

सुशांत सिंह राजपूत केस में अब रोज बदल रही है पूछताछ की जगह

sushant singh rajput probesushant singh rajput probe

सुशांत सिंह राजपूत केस की जांच बांद्रा पुलिस कर रही है, लेकिन पिछले एक सप्ताह में ज्यादातर गवाहों के स्टेटमेंट बांद्रा से अलग दूसरे पुलिस स्टेशनों में लिए गए। मंगलवार को धर्मा प्रॉडक्शंस के सीईओ अपूर्व मेहता से अंबोली पुलिस स्टेशन में पूछताछ की गई। सोमवार को निर्माता-निर्देशक महेश भट्ट का सांताक्रूज पुलिस स्टेशन में स्टेटमेंट लिया गया। पिछले सप्ताह यशराज फिल्म्स के मालिक आदित्य चोपड़ा का वर्सोवा पुलिस स्टेशन में बयान लिया गया था। नामी निर्देशक शेखर कपूर ने ई-मेल से अपना स्टेटमेंट पुलिस को भेजा, क्योंकि वह उन दिनों उत्तराखंड में थे।

बांद्रा पुलिस ने इस केस में अभिनेत्री कंगना रनौत को डाक से मनाली में समन भेजा है। वह इन दिनों मनाली में बताई जा रही हैं। अब यह देखनेवाली बात होगी कि कंगना का स्टेटमेंट पुलिस किस तरह लेती है। क्या कंगना मुंबई आती हैं? मुंबई आने पर वह क्या बांद्रा पुलिस स्टेशन जाएंगी या मुंबई में किसी और पुलिस स्टेशन में उनका स्टेटमेंट होगा? या बांद्रा पुलिस उनसे पूछताछ करने मनाली जाएगी? वैसे, फर्जी फॉलोअर्स केस में मुंबई क्राइम ब्रांच ने मुंबई के बाहर रह रहे छह गवाहों के स्टेटमेंट विडियो कॉलिंग से लिए थे। संयोग से यह गवाह भी बॉलिवुड से जुड़े हुए हैं।

Sahil Vaid Exclusive: नहीं पता था, सुशांत संग वो मेरी आख‍िरी मुलाकात होगीSahil Vaid Exclusive: नहीं पता था, सुशांत संग वो मेरी आख‍िरी मुलाकात होगी

पुलिस सुशांत सिंह केस में अब तक करीब 40 लोगों के बयान ले चुकी है। पूछताछ की अगली कड़ी में करण जौहर को भी बुलाया जा सकता है। शुरुआत में सभी गवाहों को बांद्रा में ही बुलाया गया था—यहां तक कि संजय लीला भंसाली से भी बांद्रा पुलिस स्टेशन में ही पूछताछ हुई थी। बाद में गवाहों से पूछताछ की जगह बदलती गईं।

सोनू सूद का कंगना पर निशाना- कुछ लोग सुशांत की मौत का फायदा उठा रहेसोनू सूद का कंगना पर निशाना- कुछ लोग सुशांत की मौत का फायदा उठा रहे

मुंबई पुलिस पर केस के सीबीआई को ट्रांसफर होने की आशंका का भी दबाव है। इसीलिए पुलिस अपनी तरफ से इनवेस्टिगेशन में कोई कमी नहीं छोड़ना चाहती, ताकि सीबीआई को ट्रांसफर होने की स्थिति में मुंबई पुलिस की जांच पर उस तरह कोई सवाल नहीं उठें, जैसे शीना बोरा मर्डर केस के सीबीआई को ट्रांसफर होने के बाद उठे थे।

Shekhar Suman Exclusive: ये लोग सुशांत की मौत के बाद भी कांटे बो रहे हैंShekhar Suman Exclusive: ये लोग सुशांत की मौत के बाद भी कांटे बो रहे हैं

वैसे, महाराष्ट्र के गृहमंत्री अनिल देशमुख पिछले सप्ताह कह चुके हैं कि मुंबई पुलिस की जांच सही दिशा में चल रही है और सीबीआई को केस ट्रांसफर करने की कोई जरूरत नहीं हैं। लेकिन सोमवार को जिस तरह उपमुख्यमंत्री अजीत पवार के बेटे और NCP प्रमुख शरद पवार के पोते पार्थ पवार ने अनिल देशमुख से इस केस को सीबीआई को ट्रांसफर करने की वकालत की है, उससे निश्चित तौर पर मुंबई पुलिस दबाव में है। हालांकि पोस्टमार्टम और विसरा रिपोर्ट दोनों में ही किसी फाउल प्ले की आशंका से इनकार किया गया है।

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

अप्रैल तक सर्वाधिक इस्तेमाल किए गए अंग्रेजी शब्दों में से एक है ‘कोरोना वायरस’

ऑक्सफोर्ड इंग्लिश डिक्शनरी से संबंधित संगठन 'ऑक्सफोर्ड लैंग्वेजेज ने कहा है कि 'कोरोना वायरस शब्द इस साल अप्रैल तक सर्वाधिक इस्तेमाल किए गए अंग्रेजी...

चिंताजनक: अमेरिका में थैंक्स गिविंग यात्राएं बढ़ा सकती हैं संक्रमितों की संख्या

अमेरिकी लोग दिसंबर में आने वाले थैक्स गिविंग सप्ताह के दौरान यात्राओं की तैयारियां कर रहे हैं। लाखों की संख्या में अमेरिकी नागरिकों ने...

Recent Comments