Home Sport वीरेंदर सहवाग ने जो असर डाला उसका कोई मुकाबला नहीं: गौतम गंभीर

वीरेंदर सहवाग ने जो असर डाला उसका कोई मुकाबला नहीं: गौतम गंभीर

Edited By Bharat Malhotra | नवभारतटाइम्स.कॉम | Updated:

गंभीर बोले, जो असर सहवाग ने डाला उसका कोई मुकाबला नहींगंभीर बोले, जो असर सहवाग ने डाला उसका कोई मुकाबला नहीं

नई दिल्ली

भारतीय टीम के पूर्व सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर का कहना है कि प्रारूप चाहे जो भी हो टॉप ऑर्डर में वीरेंदर सहवाग ने जो प्रभाव पैदा किया उसका कोई मुकाबला नहीं है। गंभीर ने यह भी कहा कि एक बल्लेबाज के रूप में कोई भी सहवाग की मानसिकता की नकल नहीं कर सकता।

गौतम गंभीर और इरफान पठान ने भारतीय क्रिकेट पर वीरेंदर सहवाग के असर के बारे में अपनी राय साझा की। ये दोनों पूर्व क्रिकेट स्टार स्पोर्ट्स के कार्यक्रम क्रिकेट कनेक्टेड में बात कर रहे थे।

गंभीर से जब पूछा गया कि यह कैसे तय होता था कि पहली गेंद कौन खेलेगा तो उन्होंने इसका जवाब दिया कि हमेशा पहली गेंद वही खेलते थे क्योंकि सहवाग की प्रतिक्रिया होती थी वह जैनुअन ओपनर नहीं हैं।

गंभीर ने कहा, ‘वीरेंदर सहवाग कहते थे कि वह एक सलामी बल्लेबाज नहीं हैं। तो जो भी ओपनर है उसे पहली गेंद खेलनी चाहिए। वह अपने आप को सलामी बल्लेबाज नहीं मानते थे हालांकि उनके नाम दो तिहरे शतक थे, मुझे नहीं पता उन्होंने कितने शतक जमाए। शायद सुनील गावसकर के बाद वह सबसे कामयाब भारतीय सलामी बल्लेबाज हैं लेकिन उन्होंने खुद को कभी ओपनर नहीं माना। तो हमेशा मुझे ही पहली गेंद खेलनी पड़ती थी।’

बाएं हाथ के इस बल्लेबाज ने बताया कि वह और सहवाग जब बल्लेबाजी करते थे तो क्रिकेट छोड़कर सब तरह की बातें किया करते थे। फिर चाहे वे लंच या डिनर की बातें हों या फिर विदेश में घूमने की जगह पर चर्चा।

गंभीर ने कहा, ‘सहवाग के माइंडसेट की कॉपी नहीं की जा सकती। कभी नहीं। कई लोग रन बना सकते हैं लेकिन सहवाग के रनों का प्रभाव काफी अहम है। वह किस तरह टेस्ट मैच को सेटअप किया करते थे।’

गंभीर ने चेन्नै के उस टेस्ट मैच का भी जिक्र किया जिसमें भारत को इंग्लैंड के खिलाफ चौथी पारी में 387 रनों का लक्ष्य हासिल करना था।

गंभीर ने याद दिलाया कि उस टेस्ट में सहवाग मैन ऑफ द मैच रहे थे। सहवाग ने 68 गेंद पर 83 रन बनाकर भारत को तेज शुरुआत दी थी। हालांकि सचिन तेंडुलकर ने उस मुकाबले में शतक लगाया था और युवराज सिंह ने 85 रन बनाए थे।

गंभीर ने आखिर में कहा कि किसी भी प्रारूप में अगर प्रभाव के लिहाज से देखा जाए तो वीरेंदर सहवाग का कोई मुकाबला नहीं है।

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

अफगानिस्तान से पैकअप

बाइडेन प्रशासन की ताजा घोषणा के अनुसार अमेरिकी फौज इस साल 11 सितंबर यानी ट्विन टावर आतंकी हमले की बीसवीं बरसी तक अफगानिस्तान से...

अब जाकर दिखी तेजी

रेकॉर्ड संख्या में आ रहे कोरोना के नए मामलों के बीच देश के कई हिस्सों में टीकों की तंगी की शिकायतें आने लगी हैं।...

मां, बहन, बेटी से आगे

सिंगल मदर से जुड़े एक हालिया फैसले में ने जो महत्वपूर्ण टिप्पणियां दी हैं, वे न केवल हमारी सरकारों को दिशा दिखाने वाली...

असम में नया क्या हुआ?

असम विधानसभा चुनाव का नतीजा 2 मई को आएगा। वहां पार्टियां अपने उम्मीदवारों की हिफाजत को लेकर अभी से चौकन्ना हो गई हैं। विपक्षी...

Recent Comments