Home Sport कतर 2032 ओलंपिक-पैरालंपिक की मेजबानी के लिए बोली लगाने को तैयार

कतर 2032 ओलंपिक-पैरालंपिक की मेजबानी के लिए बोली लगाने को तैयार

कतर ने 2032 ओलंपिक और पैरालंपिक खेलों की मेजबानी करने की इच्छा जताते हुए अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति (आईओसी) को एक पत्र लिख कर इसकी जानकारी दी है। प्राकृतिक गैस भंडार के लिए मशहूर इस खाड़ी देश की कोशिश दुनिया के सबसे बड़े खेलों को पहली बार पश्चिम-एशिया में कराने की है। कतर 2022 में फीफा विश्व कप की मेजबानी करेगा। कतर ओलंपिक समिति के अध्यक्ष शेख जोआन बिन हमद बिन खलीफा अल-थानी ने एक बयान में कहा कि आज की घोषणा के साथ ही आईओसी की भविष्य मेजबानी आयोग के साथ सार्थक बातचीत की शुरुआत हुई। इससे यह भी पता चलेगा कि ओलंपिक खेल कतर के दीर्घकालिक विकास लक्ष्यों का समर्थन कैसे कर सकते हैं।

रोनाल्डो का कमाल, जुवेंट्स ने दो मैच बाकी रहते सेरी ए का रिकॉर्ड नौवां खिताब पक्का किया

उन्होंने कहा कि कई वर्षों तक हमारे देश के विकास में खेल का बहुत बड़ा योगदान रहा है। यह शांति और संस्कृति के आदान-प्रदान को बढ़ावा देने के लिए खेल का उपयोग करने की हमारी इच्छा को दर्शाता है। हमारे पहले के अच्छे रिकार्ड और अनुभव आयोग के साथ हमारी चर्चा का आधार बनेगा। ओलंपिक का आयोजन आम तौर पर जुलाई-अगस्त के महीने में होता है लेकिन इस मौसम में कतर में काफी गर्मी होती है।

मैनचेस्टर यूनाईटेड और चेल्सी ने बनाई चैंपियन्स लीग में जगह

उन्होंने कहा कि गर्मी के कारण ही फीफा ने विश्व कप को जून-जुलाई की जगह नवंबर-दिसंबर 2022 में कराने का फैसला किया है। कतर ने पिछले साल विश्व ट्रैक एवं फील्ड चैम्पियनशिप का आयोजन सितंबर अक्टूबर में आउटडोर स्टेडियम में एयर कंडीशन के इस्तेमाल के साथ किया था। अगले ग्रीष्मकालीन ओलंपिक की मेजबानी 2021 में टोक्यो के पास है जबकि इनका आयोजन 2024 में पेरिस और 2028 में लॉस एंजिल्स में होगा।


Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

फ्रीडम हाउस की रिपोर्ट: स्वतंत्रता के पैमाने

दुनिया भर में लोकतंत्र की स्थिति पर नजर रखने वाले एक अमेरिकी एनजीओ 'फ्रीडम हाउस' की ताजा रिपोर्ट वैसे तो वैश्विक स्तर पर इसकी...

रिजर्वेशन: स्थानीय बनाम बाहरी

हरियाणा सरकार ने राज्य में प्राइवेट सेक्टर की नौकरियों में स्थानीय प्रत्याशियों के लिए 75 फीसदी का प्रावधान कर न केवल एक पुरानी...

चीनी हैकरः सायबर हमले का खतरा

पिछले अक्टूबर में मुंबई में हुए असाधारण पावर कट को लेकर अमेरिकी अखबार न्यू यॉर्क टाइम्स में हुआ खुलासा पहली नजर में चौंकाने वाला...

कांग्रेस में बगावत

जम्मू में ग्लोबल गांधी फैमिली नाम के एक एनजीओ के बैनर तले असंतुष्ट कांग्रेसी नेताओं के आयोजन ने तिनके की वह आड़ भी खत्म...

Recent Comments