Home Reviews अंकल, आंटी, आपके बेटे के कुछ गंदे राज हैं

अंकल, आंटी, आपके बेटे के कुछ गंदे राज हैं

लेखिकाः रेगा झा
आंटी, अंकल, हाय। मैं आपको कुछ बताना चाहती हूं। मुझे नहीं पता इस सबको मैं आराम से कैसे कहूं, लेकिन, आपका बेटा मुझे इंटरनेट पर प्रॉस्टिट्यूट बोलता है। मैं इससे अपमानित महसूस नहीं करती क्योंकि मुझे नहीं लगता कि सेक्स वर्क कोई खराब काम है। लेकिन वह यह लगातार कर रहा है। आपका बेटा मेरी फेसबुक प्रोफाइल देखता है और तब तक फोटो पर क्लिक करता ही जाता है, जब तक उसे कोई फुल बॉडी शॉट नहीं मिल जाता। इसके बाद वह उस फोटो को डाउनलोड कर मेरे शरीर पर कोई कामुक लेबल लगाता है और इसे ट्वीट कर देता है। यह तस्वीर तब की है, जब मैं 21 साल की थी।

इसके बाद आपके बेटे ने मुझे भड़काऊ मैसेज करने शुरू कर दिए, उसने पूरे विवरण के साथ बताया है कि अगर मैं उसे अकेले में मिल गई तो वह मेरे साथ क्या करेगा। इससे मुझे दुख हुआ, सभी मैसज में बलात्कार की धमकियां थीं। वह कहता है कि जब वह मेरे साथ कर लेगा, मैं चल भी नहीं पाऊंगी। जो भी उसने लिखा है वह सब अश्लील था… यह सब ऐसा है, जैसे कोई हत्या कर रहा है।

आपके बेटे ने ऐसा मेरी दोस्तों के साथ भी किया है। आपके बेटे ने मेरी ऐक्ट्रेस दोस्त की एक तस्वीर से उसका चेहरा अलग कर उसे एक पोर्न स्टार की नंगी तस्वीर पर लगा दिया और फिर इस फोटो को कई पोर्न साइट्स पर अपलोड कर दिया। उसे मेरी एक पत्रकार दोस्त का नंबर भी मिल गया था, जिसे उसने एक वाट्सऐप ग्रुप पर ऐड कर दिया जहां वह और उसके दोस्त गंदी बातें करते हैं। सैकड़ों बार उसे बलात्कार की धमकियां दी गईं। उसे अपना नंबर बदलना पड़ा।

आंटी, अंकल, आपके बेटे ने मुझे और मेरे पैरेंट्स को धमकाने के लिए टि्वटर पर झूठे नामों से कई अकाउंट्स बना रखे हैं। उसने टि्वटर पर लिखा, ‘मेरे पापा को उस रात कॉन्डम पहनना चाहिए था, और मुझे पैदा करते वक्त मेरी मां को मर जाना चाहिए था।’ मेरे मां-बाप ने उस ट्वीट को देखा और वह उस रात सो नहीं पाए। वे इसके बाद अगली कई रातों तक ठीक से सो नहीं पाए।

कई महीनों से मैं सार्वजनिक जगहों पर नर्वस महसूस करती थी। वह आदमी जो रेस्ट्रॉन्ट में अगली टेबल पर बैठकर मुझे घूर रहा था- वह आपका बेटा ही है? और यह आदमी मेरे ऑफिस की बिल्डिंग में बनी लिफ्ट में इंतजार कर रहा था, और यही किराना की दुकान पर मेरे पास से जाते हुए मुझे ऊपर से नीचे तक घूर रहा था। मैं डरी हुई हूं आंटी कि आपका बेटा मुझे भीड़ में पहचान लेगा। मैं डरी हुई हूं कि वह घर तक मेरा पीछा करेगा और मुझे जला देगा, जैसा उसने अपने मैसेज में लिखा है कि वह ऐसा करेगा।

मैं जानती हूं कि आप यही सोच रही हैं कि मैंने ऐसा क्या किया, जिससे आपके बेटे को इतना गुस्सा आ गया और यह बहुत सिंपल है: मैंने कुछ राजनीतिक विचार रखे थे, जिनसे आपका बेटा सहमत नहीं था। मुझे पता चला कि उसके हीरो सही नहीं है और मैंने यह ऑनलाइन कह दिया। इस पर आपके बेटे ने मुझे मेरे पर्सनल मैसेज में अपने लिंग की फोटो भेज दी। मुझे लगता है कि उसने यह मुझे डराने के लिए भेजी थी, जबकि मैं लिंग की इन तस्वीरों से नहीं डरती, मुझे पता है कि वह समझता है कि यह उसका एक हथियार है, जो मुझे डरा सकता है।

आप शायद सोच रही होंगी कि मैं सिर्फ आलंकारिक भाषा का इस्तेमाल कर रही हूं और मैं शब्दश: आपका बेटा ऐसा नहीं है, लेकिन वह किसी का तो बेटा है- उसका अस्तित्व नजर नहीं आता- लेकिन इस बात की भी संभावना है कि वह आपका बेटा हो। आप सोच रही होंगी कि यह असंभव है क्योंकि आपका बेटा तो अपनी बहन के लिए अच्छा, दयालु, मेहनती, उसकी रक्षा करने वाला है। वह आपका भी काफी सम्मान करता है।

लेकिन आपका बेटा बहुत फ्रस्टेटेड भी है। उसे सिर्फ अपने परिवार की जरूरतों के बारे में विचार कराते हुए बड़ा किया गया। लेकिन अब वह अब वह किसी भी संतोषजनक चीज को बचाने के लिए तड़प रहा है। वह एक अपमानजनक, डिमांडिंग बॉस के साथ इस कठिन, ऊबाऊ नौकरी में फंस गया है। वह इस नौकरी को छोड़ने से डरता है क्योंकि बेरोजगारी से जॉब सिक्योरिटी लाख दर्जे बेहतर समझता है। वह लगता है कि उसकी अपनी खामियों ने उसे अपने संपत्ति कमाने के अपने सपने से दूर रखा है। और इससे वह और ज्यादा परेशान होता है।

आपका बेटा पॉप कल्चर और कॉर्पोरेट विज्ञापनों के बीच बड़ा हो रहा है, जो देखता है कि अगर उसने ठीक डियो लगाया, सही बनियान पहनी तो महिलाएं (लड़कियां) उसकी तरफ शारीरिक रूप से आकर्षित हो जाएंगी। अंकल हो सकता है कि जब आपका बेटा युवा हो तो आपने उसको ऐसी फिल्में दिखाईं हों जिसमें हिंसा ज्यादा होती थी। या फिर जब आपके दोस्त आपके घर आते होंगे तो उसने अपनी मां के किचन में खाना बनाते वक्त आपकी बातें सुनी होंगी। जब आप अपने दोस्तों के साथ ये बातें करते हुए ठहाके लगाते होंगे कि बीवियां कितनी बातें करती हैं और काश आप उन्हें चाटें लगा सकते। हो सकता है बेटे ने आपको कभी अपनी पत्नी के चांटा मारते हुए देखा भी हो। आपके बेटे को किसी ने तो यह सब सिखाया है, कि औरत को हिंसा से डराया जा सकता है। अंकल, बताइए ना वह कौन है?

देखिए, मुझे आपके बेटे से नफरत नहीं है। मुझे पता है कि उसमें काफी आदतें अच्छी हैं। इस दुनिया में वह काफी कुछ हासिल करना चाहता है। जिंदगी को लेकर मेरी भी कुछ ऐसी ही ख्वाहिशें हैं। लेकिन कहीं से आपके बेटे ने यह भी सीख लिया है कि ऑनलाइन आपको जिसकी बातें पसंद न आएं उसको रेप की धमकियां देकर डरा दो। वह भी जानता है कि इस बात से आपको गर्व नहीं होगा। लेकिन वह आपको गर्व भी महसूस करवाना चाहता है, इसलिए अपनी इस एक आदत को वह आपसे छिपाकर रखता है। मैंने सोचा कि चलिए मैं ही आपको बता दूं।

अंग्रेजी में पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

डिसक्लेमर : ऊपर व्यक्त विचार लेखक के अपने हैं


Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

पाचन दुरुस्‍त करने से लेकर हेल्‍दी हार्ट तक, यहां हैं सर्दियों में शहर के सेवन के 5 फायदे

  सर्दियां शुरू हो चुकी हैं, ऐसे मौसम में अगर शहद को अपनी डाइट में शामिल कर लिया जाए तो यह सेहत के लिए...

श्वेता तिवारी के इस ट्रेडिशनल लुक को देखकर फैन्स को याद आई ‘प्रेरणा’

श्वेता तिवारी का नाम याद आते ही उनका प्रेरणा लुक भी याद आ जाता है। ‘कसौटी जिंदगी की’ टीवी सीरियल से घर-घर मशहूर हुई...

Weight Loss Diet : आपके किचन में रखी इन चीजों से भी तेजी से कम होता है वजन

आधुनिक दौर में जीवनशैली भी भागती-दौड़ती हो गई है। काम पर निकलने की जल्दबाजी में आप अक्सर खाने-पीने को लेकर लापरवाही कर जाते हैं।...

एनआईसीईडी को ‘कोवैक्सीन’ के तीसरे चरण के परीक्षण के लिए 1000 वालंटियर्स की जरूरत

'कोवैक्सीन' के तीसरे चरण के परीक्षण के लिए नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ कॉलरा एंटरिक डिजीज (एनआईसीईडी) को करीब 1000 वालंटियर्स की जरूरत है। एक...

Recent Comments