Home Sport युवराज सिंह बोले, करियर के अंत में गैर-पेशेवर तरीके से व्यवहार किया...

युवराज सिंह बोले, करियर के अंत में गैर-पेशेवर तरीके से व्यवहार किया गया

Edited By Tarun Vats | आईएएनएस | Updated:

युवराज सिंह (file)युवराज सिंह (file)
हाइलाइट्स

  • युवराज सिंह ने कहा कि करियर के अंत में उनके साथ गैर-पेशेवर तरीके से व्यवहार किया गया
  • उन्होंने एक चैट शो में दिग्गज हरभजन सिंह, वीरेदर सहवाग और जहीर खान का भी नाम लिया
  • युवी ने कहा, जो भारत के लिए इतने लंबे समय तक खेला हो, उसे निश्चित तौर पर सम्मान देना चाहिए
  • भारत की टी20 वर्ल्ड कप-2007 और वर्ल्ड कप-2011 जीत का अहम हिस्सा रहे युवराज सिंह

नई दिल्ली

भारत के पूर्व ऑलराउंडर युवराज सिंह ने कहा कि करियर के अंत में उनके साथ गैर-पेशेवर तरीके से व्यवहार किया गया। युवराज को भारत के महान हरफनमौला खिलाड़ियों में गिना जाता है। वह भारत की टी20 वर्ल्ड कप-2007 और वर्ल्ड कप-2011 जीत का अहम हिस्सा रहे थे।

युवराज ने कुछ और महान खिलाड़ियों के नाम लिए जिनका शानदार अंतरराष्ट्रीय करियर होने के बाद भी उनके करियर का अंत अच्छा नहीं रहा। युवराज ने स्पोर्ट्सकीड़ा से कहा, ‘मुझे लगता है कि उन्होंने मेरे करियर के अंत में मेरे साथ जैसा व्यवहार किया गया, वह काफी गैरपेशवर था।’

पढ़ें, स्टोक्स की तुलना? गंभीर बोले, भारतीयों में कोई नहीं

उन्होंने आगे कहा, ‘जब मैं कुछ और महान खिलाड़ियों जैसे हरभजन सिंह, वीरेदर सहवाग, जहीर खान को देखते हैं तो इनके साथ भी अच्छा व्यवहार नहीं हुआ। इसलिए यह भारतीय क्रिकेट का हिस्सा है। मैंने ऐसा पहले भी देखा है तो मैं इससे हैरान नहीं था।’

इन क्रिकेटरों का है 'फिल्मी कनेक्शन', युवराज-गावसकर भी लिस्ट में शामिलइन क्रिकेटरों का है ‘फिल्मी कनेक्शन’, युवराज-गावसकर भी लिस्ट में शामिल

उन्होंने कहा, ‘.. लेकिन भविष्य में जो भारत के लिए इतने लंबे समय के लिए खेला हो, मुश्किल स्थिति से गुजरा हो, आपको उसे निश्चित तौर पर सम्मान देना चाहिए।’

पढ़ें, इस बार विराट की टीम जीत सकती है IPL: ब्रैड हॉग

फैंस और साथी खिलाड़ियों के बीच युवी से मशहूर इस पूर्व क्रिकेटर ने कहा, ‘जैसे गौतम गंभीर जिसने हमारे लिए दो वर्ल्ड कप जीते। सहवाग जो टेस्ट में सुनील गावसकर के बाद हमारे लिए सबसे बड़े मैच विजेता खिलाड़ी रहे। वीवीएस लक्ष्मण, जहीर जैसे खिलाड़ी होते हैं, उन्हें सम्मान मिलना चाहिए।’

युवराज हालांकि अपने आप को महान खिलाड़ी नहीं मानते हैं। युवराज ने कहा, ‘मुझे नहीं लगता कि मैं महान खिलाड़ी हूं। मैंने यह खेल पूरे सम्मान के साथ खेला है लेकिन मैंने ज्यादा टेस्ट क्रिकेट नहीं खेली है। महान खिलाड़ी वे हैं, जिनका टेस्ट रेकॉर्ड काफी अच्छा है।’

COVID-19: अफरीदी के NGO का सपॉर्ट करने पर युवराज सिंह और हरभजन हुए ट्रोलCOVID-19: अफरीदी के NGO का सपॉर्ट करने पर युवराज सिंह और हरभजन हुए ट्रोल

युवराज सिंह ने करियर में 40 टेस्ट, 304 वनडे और 58 टी20 इंटरनैशनल मैच खेले। उनके नाम टेस्ट में 1900, वनडे में 8701 और टी20 इंटरनैशनल में कुल 1177 रन दर्ज हैं। इसके अलावा उन्होंने अपने इंटरनैशनल करियर में कुल 148 विकेट भी झटके।

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Covid-19:एस्ट्राजेनेका का कोरोना टीका पूरी तरह सुरक्षित: एसआईआई

पुणे स्थित दुनिया की सबसे बड़ी टीका उत्पादक कंपनी सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (एसआईआई) ने दावा किया है कि एस्ट्राजेनेका और ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय के...

Christmas Recipe: क्रिसमस पर ट्राई करें प्लम केक की ये खास रेसिपी, त्योहार का मजा हो जाएगा दोगुना

Christmas Recipe: क्रिसमस का नाम सुनते ही सैंटा क्लॉज, ढेर सारे गिफ्ट्स, मस्ती और टेस्टी डिशेज आंखों के सामने घुमने लगती हैं। क्रिसमस...

कोरोना टीका: एनआईसीईडी में दो दिसंबर से टीके के तीसरे चरण का परीक्षण शुरू होगा

कोलकाता में नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ कॉलेरा एंड एंटेरिक डिजीज (एनआईसीईडी) में कोरोना के लिए बनाई गई कोवैक्सीन के तीसरे चरण का परीक्षण बुधवार से...

पड़ोस में सुलगती आग, अफगानिस्तान में हिंसा का दौर

पड़ोसी मुल्क अफगानिस्तान में हिंसक घटनाएं अचानक बढ़ गई हैं। काबुल यूनिवर्सिटी पर हुए आतंकी हमले को महीना भी नहीं बीता था कि गुजरे...

Recent Comments