Home Gadgets अपने फायदे के लिए आपकी जासूसी कर रहा गूगल, चुरा रहा ऐप्स...

अपने फायदे के लिए आपकी जासूसी कर रहा गूगल, चुरा रहा ऐप्स का डेटा

सांकेतिक तस्वीरसांकेतिक तस्वीर

नई दिल्ली

आपके फोन में किस ऐप को कितनी देर तक इस्तेमाल किया गया, इसकी जानकारी गूगल को है और वह ऐप्स से जुड़ा डेटा कलेक्ट कर रहा है। गूगल का एक इनसाइड प्रोग्राम ‘ऐंड्रॉयड लॉकबॉक्स’ कंपनी के कर्मचारियों को नॉन-गूगल ऐप्लिकेशंस के ऐंड्रॉयड क्लाइंट इंटरफेस का ऐक्सेस दे सकता है, इसके बाद वे यूजर्स का ऐप यूजेस डेटा भी एनालाइज कर सकते हैं। The Information की ओर से शेयर की गई रिपोर्ट में यह बात सामने आई है।

इनसाइड प्रोग्राम गूगल मोबाइल सर्विसेज के साथ काम करता है और इस तरह कंपनी के कर्मचारी आपके फोन में मौजूद अलग-अलग ऐप्लिकेशंस से जुड़ी ‘कुछ’ जानकारी जुटा सकते हैं। गूगल पता कर सकता है कि किसी ऐप को कितनी बार ओपन किया गया, या फिर कितने देर तक इस्तेमाल किया गया। सोर्सेज की मानें तो इस डेटा का इस्तेमाल गूगल अपनी सर्विसेज को टक्कर देने वाले ऐप्स को मॉनीटर करने के लिए करता है।

पढ़ें: मिलेंगे Pixel जैसे फीचर्स, फोन में इंस्टॉल करें Google Phone ऐप

मांगना होता है ऐक्सेस

गूगल अपने जीमेल एडमिनिस्ट्रेशन के अलावा फेसबुक और इंस्टाग्राम के इस्तेमाल से जुड़ा डेटा भी एनालाइज कर सकता है। इस तरह बाकी पॉप्युलर ऐप्स के यूजेस मॉनीटर करते हुए कंपनी अपनी नई सर्विसेज और ऐप्स को डिवेलप करती है। जैसे हाल ही में TikTok को टक्कर देने के लिए गूगल की ओर से Shorts डिजाइन किया गया है। हालांकि, इस जानकारी के लिए हर बार गूगल को ऐक्सेस मांगना होता है और ऐप डिवेलपर्स ऐक्सेस देने से इनकार भी कर सकते हैं।

पढ़ें: Google Pixel 4A का कैमरा होगा जबरदस्त, सामने आए कैमरा सैंपल

गूगल के पास डेटा सेफ

सामने आई रिपोर्ट पर गूगल ने सफाई देते हुए कहा है कि इस प्रोग्राम की मदद से अलग-अलग इंजिनियर्स कंपटीटिव डेटा जुटा सकते हैं। हालांकि, गूगल के इस प्रोग्राम पर सवाल भी उठ रहे हैं क्योंकि हर उस गैजेट का डेटा इसकी मदद से जुटाया जा सकता है, जिसमें गूगल के ऐप्स प्री-इंस्टॉल हों। हालांकि, कंपनी ने कहा है कि यह जानकारी क्लाइंट्स को नहीं दी जाती और इसकी अथॉरिटी सिर्फ गूगल के पास है। ऐसे में यूजर्स का डेटा गूगल के पास सेफ है, ऐसा कहा गया है।

अगली स्टोरी

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

दिशा रविः विवेकशीलता के पक्ष में

बहुचर्चित टूलकिट मामले में गिरफ्तार युवा पर्यावरण कार्यकर्ता को आखिर मंगलवार को दिल्ली की एक अदालत से जमानत मिल गई। पहले दिन से...

जंग बन गए हैं चुनाव

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने असम में एक रैली को संबोधित करते हुए संकेत दिया कि मार्च के पहले हफ्ते में चुनाव आयोग वहां चुनाव...

भारत-चीनः सुधर रहे हैं हालात

राहत की बात है कि भारत-चीन सीमा पर आमने-सामने तैनात टुकड़ियों की वापसी को लेकर शुरुआती सहमति बनने के बाद एलएसी पर तनाव में...

ग्रीनकार्ड की गुंजाइश

बाइडन प्रशासन की ओर से पिछले हफ्ते अमेरिकी संसद में पेश किया गया नागरिकता बिल 2021 इस बात की एक और स्पष्ट घोषणा है...

Recent Comments