Home News जब कुणाल खेमू से उनके पापा ने फोन करके पूछा ऐक्टर बनना...

जब कुणाल खेमू से उनके पापा ने फोन करके पूछा ऐक्टर बनना है…

Edited By Shashikant Mishra | नवभारतटाइम्स.कॉम | Updated:

कुणाल खेमूकुणाल खेमू

बॉलिवुड ऐक्टर कुणाल खेमू इन दिनों अपनी आने वाली फिल्म ‘लूटकेस’ को लेकर चर्चा में हैं। इंडस्ट्री में बाल कलाकार के तौर पर डेब्यू करने वाले कुणाल खेमू कई फिल्मों में काम किया है। हाल ही में उन्होंने अमर उजाला के साथ अपने बॉलिवुड करियर पर बात की। इस दौरान उन्होंने कई दिलचस्प बातों का जिक्र किया है।

कुणाल खेमू ने अपने ऐक्टिंग करियर की शुरुआत के बारे में बात करते हुए कहा, ‘मैंने अभिनय को खुद चुना है। दरअसल, जब हम श्रीनगर में थे और मेरे मां ज्योति खेमू और पिता रवि खेमू दूरदर्शन के शो ‘गुल गुलशन गुलफाम’ में काम कर रहे थे। जब हम मुंबई आए तो ‘गुल गुलशन गुलफाम’ के निर्देशक वेद राही एक शो ‘चित्र कथाएं’ बना रहे थे। इसमें मां-बेटे की कहानी थी। इस तरह से मेरी ऐक्टिंग की शुरुआत हुई। इस शो में मेरी मां भी मेरे साथ थी।’

सोहा अली खान और कुनाल खेमू की लव स्टोरीसोहा अली खान और कुनाल खेमू की लव स्टोरी

फिल्म ‘हम है राही प्यार के’ को लेकर कुणाल खेमू ने बताया, ‘जब यह फिल्म बन रही थी तो मेरे पिता से किसी ने मेरे लिए बात की। उस समय मैं दिल्ली में अपनी मौसी के घर पर था। पापा ने फोन करके पूछा कि तुम्हें ऐक्टर बनना है तो मैंने हां कर दी। एक बाल कलाकार के तौर पर मैंने कुछ ही फिल्में कीं क्योंकि तब यह मेरा पेशा नहीं था। शायद मेरे माता-पिता भी तब यह सोचते होंगे कि मैं बड़ा होकर डॉक्टर या इंजिनियर बनूं। मुझे भी नहीं पता था कि मैं क्या करने वाला हूं लेकिन जब फिल्म ‘जख्म’ में मुझे काम मिला तो मुझे लगा कि एक ऐक्टर के रूप में मुझे अपने आपको एक मौका देना चाहिए।’

बाल कलाकार के तौर पर ऐक्टिंग शुरू करने की बात पर कुणाल खेमू ने कहा, ‘मैं उस वक्त गंभीर किस्म का बच्चा हुआ करता था। लोग मुझे देखकर कहते थे कि मैं तो बहुत पेशेवर लगता हूं। मेरी जितनी भी शैतानियां हुआ करती थीं वह या तो फिल्म के सेट के बाहर होती थीं या फिर सिर्फ घर पर। सेट पर मैं फिल्म के काम को बहुत ध्यान से देखता था। मैं इस मामले में बहुत जिज्ञासु था कि आखिर फिल्म के डायरेक्टर, सेट डिजाइनर, कैमरामैन आखिर करते क्या हैं?’

NBT Entertainment अब Telegram पर भी। हमें जॉइन करने के लिए यहां क्‍ल‍िक करें और मोबाइल पर पाएं हर जरूरी अपडेट।

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

दिशा रविः विवेकशीलता के पक्ष में

बहुचर्चित टूलकिट मामले में गिरफ्तार युवा पर्यावरण कार्यकर्ता को आखिर मंगलवार को दिल्ली की एक अदालत से जमानत मिल गई। पहले दिन से...

जंग बन गए हैं चुनाव

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने असम में एक रैली को संबोधित करते हुए संकेत दिया कि मार्च के पहले हफ्ते में चुनाव आयोग वहां चुनाव...

भारत-चीनः सुधर रहे हैं हालात

राहत की बात है कि भारत-चीन सीमा पर आमने-सामने तैनात टुकड़ियों की वापसी को लेकर शुरुआती सहमति बनने के बाद एलएसी पर तनाव में...

ग्रीनकार्ड की गुंजाइश

बाइडन प्रशासन की ओर से पिछले हफ्ते अमेरिकी संसद में पेश किया गया नागरिकता बिल 2021 इस बात की एक और स्पष्ट घोषणा है...

Recent Comments