Home Bhilwara samachar नाग पंचमी 2020: बन रहा है दुर्लभ योग कालसर्प दोष निवारण के...

नाग पंचमी 2020: बन रहा है दुर्लभ योग कालसर्प दोष निवारण के लिए है सर्वोत्तम

ज्योतिष डेस्क, अमर उजाला, Updated Thu, 23 Jul 2020 12:57 PM IST

नागपंचमी का पर्व हर वर्ष सावन मास की शुक्लपक्ष की पंचमी के दिन मनाया जाता है। नागपंचमी के दिन नागों की पूजा करने का विधान है। पुराने समय से ही हमारे देश में नागों की पूजा की जाती है, शास्त्रों में नागों को पाताल का स्वामी बताया गया है। भगवान शिव को नागों का देवता माना जाता हैं, वे अपने गले में वासुकी नाग धारण करते हैं,

इसलिए इस दिन भगवान शिव की पूजा करने का भी विधान है। भगवान विष्णु स्वयं भी शेषनाग पर विराजते हैं। कहा जाता है कि इस दिन नागों की पूजा करने से नागदंश का भय नहीं रहता है। इस बार नागपंचमी 25 जुलाई को पड़ रही है, इस दिन दुर्लभ योग बन रहा है। जो कालसर्प दोष निवारण के लिए उपयुक्त है।

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

अफगानिस्तान से पैकअप

बाइडेन प्रशासन की ताजा घोषणा के अनुसार अमेरिकी फौज इस साल 11 सितंबर यानी ट्विन टावर आतंकी हमले की बीसवीं बरसी तक अफगानिस्तान से...

अब जाकर दिखी तेजी

रेकॉर्ड संख्या में आ रहे कोरोना के नए मामलों के बीच देश के कई हिस्सों में टीकों की तंगी की शिकायतें आने लगी हैं।...

मां, बहन, बेटी से आगे

सिंगल मदर से जुड़े एक हालिया फैसले में ने जो महत्वपूर्ण टिप्पणियां दी हैं, वे न केवल हमारी सरकारों को दिशा दिखाने वाली...

असम में नया क्या हुआ?

असम विधानसभा चुनाव का नतीजा 2 मई को आएगा। वहां पार्टियां अपने उम्मीदवारों की हिफाजत को लेकर अभी से चौकन्ना हो गई हैं। विपक्षी...

Recent Comments