Home भीलवाड़ा मांडलगढ़ गुलाबी, पीली टिड्डियों के झुंड सक्रिय, नियंत्रण अभियान जारी - Bhilwara News...

गुलाबी, पीली टिड्डियों के झुंड सक्रिय, नियंत्रण अभियान जारी – Bhilwara News Rajasthan India Hindi News

नई दिल्ली। देश के सीमावर्ती प्रांत राजस्थान समेत कई राज्यों में टिड्डियों के दल अभी तक सक्रिय हैं। कृषि मंत्रालय ने मंगलवार को बताया कि राजस्थान राज्य के बाड़मेर, बीकानेर, जोधपुर, नागौर, अजमेर, सीकर और जयपुर जिलों, उत्तर प्रदेश के झांसी जिले तथा मध्य प्रदेश के टीकमगढ़ जिले में छोटी गुलाबी टिड्डियां और वयस्क पीली टिड्डियों के झुंड एक दिन पहले सक्रिय पाए गए। उधर, अंतर्राष्ट्रीय संस्था खाद्य एवं कृषि संगठन (एफएओ) ने आने वाले दिनों में सीमापार से इनके हमले जारी रहने चेतावनी दी है जिसके मद्देनजर टिड्डी नियंत्रण अभियान तेज हो गया है।

एफएओ के अनुसार, भारत-पाक सीमा पर जल्द प्रजनन की शुरुआत पहले ही हो चुकी है, जहां जुलाई में व्यापक स्तर पर अंडे देने और झुंड बनने की प्रक्रिया होगी। इसके चलते ही अगस्त के मध्य तक पहली पीढ़ी के ग्रीष्मकालीन झुंड तैयार होंगे।

मंत्रालय से मिली जानकारी के अनुसार, टिड्डी सर्कल कार्यालयों (एलसीओ) द्वारा 11 अप्रैल, 2020 से छह जुलाई, 2020 तक राजस्थान, मध्य प्रदेश, पंजाब, गुजरात, उत्तर प्रदेश और हरियाणा में 1,43,422 हेक्टेयर क्षेत्र में नियंत्रण अभियान चलाया जा चुका है। राज्य सरकारों ने भी राजस्थान, मध्य प्रदेश, पंजाब, गुजरात, उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, हरियाणा और बिहार राज्यों में छह जुलाई, 2020 तक 1,32,465 हेक्टेयर क्षेत्र में नियंत्रण अभियान चलाया।

कृषि मंत्रालय ने बताया कि हेलीकॉप्टर का इस्तेमाल होने से टिड्डी रोधी अभियान में हवाई छिड़काव क्षमता मजबूत हुई है। राजस्थान के अधिसूचित रेगिस्तानी क्षेत्र में एक बेल हेलीकॉप्टर तैनात कर दिया गया है। वहीं, भारतीय वायु सेना ने भी एमआई-17 हेलीकॉप्टर के उपयोग के द्वारा टिड्डी रोधी अभियान में परीक्षण कार्य पूरा किया है।

इसके अलावा कीटनाशकों के छिड़काव के माध्यम से ऊंचे पेड़ों और दुर्गम क्षेत्रों पर टिड्डियों पर प्रभावी नियंत्रण के लिए राजस्थान में बाड़मेर, जैसलमेर, बीकानेर, नागौर और फलोदी जिलों में 15 ड्रोन तैनात कर दिए गए हैं।

वर्तमान में छिड़काव वाहनों के साथ 60 नियंत्रण दल राजस्थान, गुजरात, मध्य प्रदेश और उत्तर प्रदेश राज्यों में तैनात कर दिए गए हैं और साथ ही केन्द्र सरकार के 200 से ज्यादा कर्मचारी टिड्डी नियंत्रण परिचालनों में लगे हुए हैं। इसके अलावा 20 और छिड़काव उपकरण भारत पहुंच गए हैं।

मंत्रालय ने बताया कि गुजरात, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, बिहार और हरियाणा राज्यों में अभी तक फसलों को कोई खास नुकसान नहीं हुआ है। हालांकि राजस्थान के कुछ जिलों में कुछ फसलों को मामूली नुकसान हुआ है।

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

फर्क समझे सरकार

सोशल मीडिया को नियमित करने की बहुचर्चित और वास्तविक जरूरत पूरी करने के मकसद से केंद्र सरकार पिछले हफ्ते जो नए कानून लेकर आई...

भारत-पाकिस्तानः LOC पर शांति की उम्मीद

भारत और पाकिस्तान की सेनाओं की ओर से संयुक्त घोषणापत्र के रूप में गुरुवार को आई यह खबर एकबारगी सबको चौंका गई कि दोनों...

टीकाकरणः नए हालात, नई रणनीति

केंद्र सरकार ने साफ कर दिया है कि कोरोना के टीकाकरण का दूसरा चरण सोमवार एक मार्च से ही शुरू हो जाएगा और इसके...

दिशा रविः विवेकशीलता के पक्ष में

बहुचर्चित टूलकिट मामले में गिरफ्तार युवा पर्यावरण कार्यकर्ता को आखिर मंगलवार को दिल्ली की एक अदालत से जमानत मिल गई। पहले दिन से...

Recent Comments