Home भीलवाड़ा मांडलगढ़ देवपुरी में चरागाह भूमि पर अतिक्रमण, ग्रामीणों ने प्रदर्शन कर दिया ज्ञापन...

देवपुरी में चरागाह भूमि पर अतिक्रमण, ग्रामीणों ने प्रदर्शन कर दिया ज्ञापन – Bhilwara News Rajasthan India Hindi News

देवपुरी में चरागाह भूमि पर अतिक्रमण, ग्रामीणों ने प्रदर्शन कर दिया ज्ञापन
शाहपुरा -(मूलचन्द पेसवानी)
शाहपुरा तहसील के लसाड़िया पंचायत के देवपुरी ग्राम में पिछले लंबे समय से चरागाह पर हो रखे अतिक्रमण को हटाने की मांग को लेकर ग्रामीणों ने आज पूर्व सरपंच संजय मंत्री की अगुवाई में एसडीओ श्वेता चौहान को ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में ग्रामीणों ने कहा है कि देवपुरी में गांव के मवेशियों के लिए आरक्षित चरागाह की भूमि पर गांव के प्रभावशाली लोगों ने अतिक्रमण कर रखा है जिससे पशुओं के लिए चरागाह भूमि नहीं बची है। इसे लेकर पशुपालक परेशान है। पूर्व सरपंच संजय मंत्री ने बताया कि ग्र्रामीण पूर्व में भी कई मर्तबा तहसीलदार शाहपुरा को ज्ञापन दे चुके है पर कोई कार्रवाई नहीं हुई है। ज्ञापन में शमसान भूमि व सार्वजनिक रास्तों से भी अतिक्रमण हटाने की मांग की है। इस मौके पर ग्राम पंचायत सरपंच कांता मीणा की ओर से भी अतिक्रमण हटाने के संबंध में अलग से ज्ञापन दिया गया। आज ज्ञापन देने गांव से काफी तादाद में ग्रामीण वाहनों से शाहपुरा पहुंचे पर कोविड एडवाइजरी के चलते पूर्व सरपंच सहित पांच जनों ने एसडीओ दफ्तर पहुंच कर ज्ञापन सौंपा। एसडीओ ने शीघ्र ही कार्रवाई का आश्वासन दिया है। बलवंतसिंह, प्रेमचंद मीणा, लालाराम, महावीर प्रसाद आदि इस दौरान मौजूद रहे।

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

चेहरे के पुराने से पुराने दाग-धब्बों को भी ठीक कर देगा शहद से बना यह फैस पैक

कई बार ऐसा होता है कि हमारे चेहरे पर ग्लो तो होता है लेकिन दाग-धब्बे और झाईयां हमारे चेहरे की नेचुरल सुंदरता को कुछ...

लोक परंपरा व संस्कृति के रंगों से सराबोर हुई कुंभनगरी हरिद्वार

आगामी कुंभ के लिए तैयार हो रही धर्म नगरी हरिद्वार लोक परंपराओं व संस्कृति के रंगों से सराबोर हो उठी है जो श्रद्धालुओं के...

भारत का पहला श्रमिक आंदोलन संग्रहालय केरल में खुलेगा

विश्व श्रमिक आंदोलन के इतिहास को दर्शाने वाला देश का पहला श्रमिक आंदोलन संग्रहालय केरल के अलाप्पुझा में शुरू किया जाएगा। राज्य के पर्यटन...

पक्षियों में विकसित क्षमता की वजह से बर्ड फ्लू के मामलों में दर्ज हुई कमी

मध्यप्रदेश के इंदौर जिले में मौसम के बदलाव और पक्षियों की रोग प्रतिरोधक क्षमता के विकसित होने की वजह से बर्ड फ्लू के मामलों...

Recent Comments